पीएफआइ पर हुई कार्रवाई को लेकर बोले गृहमंत्री, दिग्विजय सिंह पर भी साधा निशाना

भोपाल/ब्यूरो। आज सुबह पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (पीएफआइ) और इससे जुड़े सहयोगी संगठनों पर केंद्र सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है। जिसके चलते प्रदेश के गृहमंत्री डा. नरोत्‍तम मिश्रा में केंद्रीय गृह मंत्रालय के इस फैसले का स्‍वागत करते हुए इसे आंतकवाद के खिलाफ आतंरिक सर्जिकल स्‍ट्राइक करार दिया है। इस संदर्भ में बुधवार सुबह उन्‍होंने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि केंद्र सरकार का यह स्वागतयोग्य कदम है। 

गृह मंत्री ने इस निर्णय के लिए उन्‍होंने प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री का आभार जताते हुए कहा कि जो संगठन राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में संलिप्त हो, जिसके आइएसआइ से कनेक्शन पाए गए हों, जो केरल में, ओडिशा, कर्नाटक, तमिलनाडु में जिनके हत्याओं के सबूत मिले हैं, ऐसे संगठन पर प्रतिबंध लगाना निश्चित ही स्वागतयोग्य है। नरोत्‍तम ने कहा कि हमारे यहां (प्रदेश में) पहले 4 लोग पकडे़ गए और उनसे मिली जानकारी के आधार पर 21 लोगों को और पकड़ा है। इस तरह अब तक कुल 25 लोग पकड़े जा चुके हैं और इनसे पूछताछ में जैसे-जैसे जानकारी मिलती जाएगी, वैसे-वैसे इनकी सारी स्लीपर सेल्‍स पकड़ में आती जाएंगी। पीएफआइ पर जो प्रतिबंध लगाया गया है, वह आंतरिक सर्जिकल स्‍ट्राइक है। पहले बाह्य सर्जिकल स्‍ट्राइक की गई थी, आतंकियों पर एयर स्‍ट्राइक की थी, यह आंतरिक सर्जिकल स्‍ट्राइक है। इससे ये पूरे तत्‍व नेस्‍तनाबूद हो जाएंगे। देश की एकता और अखंडता पर किसी भी तरह आंच नहीं आने दी जाएगी।

दिग्विजय सिंह द्वारा राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) की तुलना पीएफआइ से करने पर पर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि दिग्‍विजय सिंह तुष्‍टीकरण की राजनीति करते हैं। राष्ट्रवादी संगठन आरएसएस का स्वयंसेवक होने पर मुझे गर्व है। क्या दिग्विजय सिंह कह सकते हैं कि वह पीएफआइ के सदस्य हैं? अगर नहीं कह सकते तो पीएफआइ और संघ की तुलना क्यों? टुकड़े-टुकड़े गैंग के समर्थक और जाकिर नाईक को शांति दूत बताने वाले दिग्‍विजय सिंह तुष्टिकरण की राजनीति के लिए पीएफआइ पर हो रही कार्रवाई पर सवाल खड़े कर रहे हैं। भाजपा सरकार में राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

सम्राट अशोक के शिलालेख पर लोगों ने बना डाली मजार

2 रुपए में मिल रही 300KG प्याज

बेदर्दी बेटा: पाल पोस कर जिस माँ ने किया बड़ा, उसी बेटे ने कर डाला शर्मनाक काम

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -