'नारी को मृत्युदंड देने से आएंगी आपदाएं...', शबनम की फांसी रोकने के लिए हिन्दू धर्मगुरु ने उठाई आवाज़

By Bhavesh Bakshi
Feb 22 2021 12:54 PM
'नारी को मृत्युदंड देने से आएंगी आपदाएं...', शबनम की फांसी रोकने के लिए हिन्दू धर्मगुरु ने उठाई आवाज़

अयोध्या: प्रेमी से शादी करने की चाहत में अपने ही परिवार के 7 सदस्यों की बेरहमी से कुल्हाड़ी से काटकर हत्या करने वाली शबनम इस समय अपनी फांसी को रोकने के लिए गुहार लगा रही है। उसकी इस गुहार को अब भगवान श्री राम की नगरी अयोध्या से भी समर्थन मिलने लगा है। महंत परमहंस दास ने राष्ट्रपति से शबनम की फांसी को रोकने की गुजारिश की है।

महंत परमहंस दास ने कहा कि हिंदू शास्त्रों में नारी का स्थान पुरूषों से बहुत ऊपर है। इसलिए किसी भी नारी को मृत्य दंड देना उचित नहीं है। यदि किसी भी महिला के साथ ऐसा व्यवहार किया जाता है, तो ये बेहद दुर्भाग्य की बात है और ऐसा होने से हम कई आपदोओं का निमंत्रण दे रहे हैं। नारी को मृत्युदंड देकर समाज का भला नहीं होगा। शबनम का अपराध माफ करने योग्य नहीं है, किन्तु मैं राष्ट्रपति से अपील करता हूं कि वो उसे नारी होने के नाते क्षमा कर दें।

शबनम की फांसी रोकने का आग्रह करते हुए महंत परमहंस ने कहा कि हिंदू धर्म गुरू होने के नाते मैं राष्ट्रपति से गुजारिश करता हूं कि शबनम की दया याचिका को स्वीकार कर लें। उन्होंने आगे कहा कि शबनम अपने किए का प्रायश्चित कर चुकी है। देश राष्ट्रपति को कुछ शक्तियां देता है जिसका इस्तेमाल करते हुए उन्हें शबनम को क्षमा कर देना चाहिए। बता दें कि भारत को आजादी मिलने के बाद आज सात दशक से भी अधिक समय हो गया है, लेकिन अभी तक किसी महिला कैदी को फांसी की सजा नहीं हुई है। 

'कांग्रेस' के हाथ से निकला एक और राज्य, पुडुचेरी में गिरी नारायणसामी सरकार

सोने की कीमत में फिर आया निखार, यहाँ देखें गोल्ड के फ्यूचर प्राइस

पश्चिम बंगाल में पेट्रोल और डीजल का टैक्स घटा, जानिए क्या है आज के रेट