जम्मू कश्मीर में कांग्रेस नेताओं के 'सामूहिक इस्तीफे' के बाद आज गुलाम नबी आजाद की बड़ी रैली

श्रीनगर: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर कांग्रेस में भी सबकुछ सही नहीं चल रहा है. बुधवार शाम को कई पूर्व मंत्री और विधायकों के सामूहिक इस्तीफे के बाद गुरुवार को कांग्रेस के दिग्गज नेता गुलाम नबी आजाद एक रैली निकालने जा रहे हैं. ये रैली दोपहर 12:30 बजे कठुआ के दयाला चाक पर होगी. इसे G-23 की सियासी परीक्षा के रूप में देखा जा रहा है. 

गुलाम नबी आजाद उन 23 नेताओं में शामिल हैं, जिन्होंने गत वर्ष अगस्त में सोनिया गांधी को चिट्ठी लिख कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव कराने की बात कही थी. इसलिए इसे G-23 कहा जाता है. इस समूह में कपिल सिब्बल सहित कांग्रेस के कई दिग्गज नेता हैं. गुलाम नबी आजाद की रैली ऐसे समय में हो रही है, जब एक दिन पहले ही जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के कई नेताओं ने त्यागपत्र दिया है. ऐसे में माना जा रहा है कि आजाद इस्तीफों के माध्यम से पार्टी हाईकमान पर दबाव बनाने का प्रयास कर रहे हैं. वहीं, रैली के जरिए अपनी सियासी ताकत भी दिखाने का प्रयास कर रहे हैं. 

बता दें कि बुधवार को जम्मू कश्मीर के 4 पूर्व मंत्री और 3 पूर्व विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था. इस्तीफा देने वाले सभी गुलाम नबी आजाद के ख़ास माने जाते हैं. इस्तीफा देने वालों में पूर्व मंत्री जीएम सरूरी, जुगल किशोर, विकार रसूल और डॉ. मनोहर लाल का नाम शामिल है. इनके साथ ही गुलाम नबी मोंगा, नरेश गुप्ता और अमीन भट ने भी इस्तीफा दिया है. बागी विधायकों ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और जम्मू-कश्मीर की प्रभारी रजनी पाटिल को अपना इस्तीफा भेजा है. 

प्रियंका गांधी पर लगा चोरी का आरोप, कवि पुष्यमित्र बोले- चोरों से देश क्या उम्मीद रखे ?

आज दिल्ली में 'यूपी फतह' का फार्मूला तैयार करेगी भाजपा, नड्डा की अगुवाई में मंथन करेंगे दिग्गज नेता

आज पूरी कैबिनेट के साथ 'करतारपुर' जाएंगे सीएम चन्नी, लेकिन सिद्धू को नहीं मिली इजाजत

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -