400 अज्ञात प्रवासी श्रमिकों ने ​भीषण पथराव को दिया अंजाम, पुलिस पर हुआ बड़ा हमला

लॉकडाउन और कोरोना की वजह से उत्पन्न संकट के चलते जहां सरकार प्रवासी श्रमिकों को उनके घर पहुंचाने में जुटी हुई है. वही, एमपी यानी मध्य प्रदेश में चौकाने वाली घटना सामने आई है. राज्य में एक जिले में अज्ञात प्रवासी श्रमिकों द्वारा पुलिस पर हमला किया गया है. यह हमला पथराव के माध्यम से किया गया है. बता दे​ कि अधिकारियों ने कहा कि बड़वानी, मध्य प्रदेश के सेंधवा इलाके में पुलिस पर पथराव करने के लिए 400 से अधिक अज्ञात प्रवासी श्रमिकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

सिखों के दूसरे गुरु, जिन्हे लोग प्यार से कहते थे 'भक्त अमरदास'

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सेंधवा ग्रामीण पुलिस स्टेशन में सब-इंस्पेक्टर राजेंद्र सोलंकी ने कहा कि घटना में कम से कम 3 पुलिस कर्मियों को चोटें आई. रविवार को, प्रवासी श्रमिकों ने यहां राष्ट्रीय राजमार्ग को अवरुद्ध कर दिया था और पुलिस पर कथित रूप से पथराव किया था जिसमें तीन पुलिसवालों को मामूली चोटें आई थी.

विश्व अस्थमा दिवस: कहीं आपको भी सांस लेने में तकलीफ तो नहीं ?

इसके अलावा ऐसी ही एक घटना गुजरात के सूरत में सामने आई है. लॉकडाउन बढ़ने के बाद गुजरात के सूरत में फंसे श्रमिकों ने अपने वतन जाने की मांग को लेकर सोमवार को फिर उत्‍पात मचाया. उग्र श्रमिकों ने पुलिस पर पथराव किया तो पुलिस ने भी आंसू गैस के गोले दागे तथा लाठीचार्ज किया.

आई फॉर इंडिया कॉन्सर्ट में अर्जुन कपूर ने मांगी मदद, कहा- 'दान करो'

इरफान के निधन को नामुमकिन मानती है यह फिल्म मेकर

कुछ इस तरह शुरू हुआ था पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी ज़ैल सिंह का राजनीतिक सफर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -