ILFS स्कैम मामला: राज ठाकरे से पूछताछ करेगी ईडी, सुरक्षा के पुख्ता इंतज़ाम

ILFS स्कैम मामला: राज ठाकरे से पूछताछ करेगी ईडी, सुरक्षा के पुख्ता इंतज़ाम

मुंबई: ILFS स्कैम मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश होने से पहले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के अध्यक्ष राज ठाकरे ने कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने का आग्रह किया है. राज ठाकरे को कोहिनूर बिल्डिंग मामले में 22 अगस्त को ईडी के समक्ष हाजिर होना है. राज ठाकरे की पेशी को लेकर मुंबई में मनसे कार्यकर्ताओं के इकठ्ठा होने के प्रश्न का उत्तर देते हुए मुंबई पुलिस ने कहा है, 'पुलिस की तरफ से सुरक्षा इंतज़ाम किए जाएंगे, खासतौर से प्रवर्तन निदेशालय बिल्डिंग के बाहर. दादर मनसे दफ्तर और ईडी दफ्तर हमारे फोकस एरिया हैं.'

मुंबई पुलिस ने कहा है कि, 'ईडी ऑफिस के बाहर किसी भी तरह से प्रदर्शनकारियों के इकट्ठा होने की इजाजत  नहीं है. कानून-व्यवस्था की स्थिति में कोई गड़बड़ी न हो, इसके लिए सुरक्षाबलों की तैनाती की जाएगी.' वहीं मनसे प्रमुख राज ठाकरे 22 अगस्त के लिए कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने का आग्रह किया है.  

सूत्रों के अनुसार  एक मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच के दौरान ईडी को पता चला कि कोहिनूर बिल्डिंग का उपयोग पैसों को डाइवर्ट करने के लिए हुआ था. कोहिनूर बिल्डिंग में निवेश और शेयर होल्डिंग राज ठाकरे और राजन शिरोडकर ने 421 करोड़ में सौदा किया था। ईडी को इस डील के संबंध में IL&FS स्कैम की जांच के दौरान पता चला था. ईडी अब राज ठाकरे और उन्मेष जोशी से पूछताछ करके ये मालूम करने की कोशिश करेगी कि कोहिनूर बिल्डिंग और IL&FS स्कैम के मध्य क्या संबंध है और आखिरकार किस तरीके और जरिए से करोड़ों रुपयों को डाइवर्ट किया गया है.

आरक्षण पर बोले रामविलास पासवान, कहा- ये चलेगा भी और बढ़ेगा भी

आरक्षण को लेकर संघ प्रमुख ने दिया था बयान, अब तेजस्वी यादव ने किया पलटवार

असम NRC पर गृह मंत्रालय ने दिया बड़ा बयान, जिसमे होगा 40 लाख लोगों की किस्मत का फैसला