CGST अधिकारियों ने किया बड़ा खुलासा, कहा- 91 करोड़ टैक्स की हुई चोरी...

नई दिल्ली: दिल्ली जोन GST की चोरी को रोकने के लिए निरंतर कोशिश कर रहा है, वर्तमान वित्त वर्ष में 91.256 करोड़ रुपये की कर चोरी का पता लगाया है तथा इन मामलों में 3 व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है। दरअसल एक विशेष खुफिया जानकारी के आधार पर, केंद्रीय माल एवं सेवा कर के कमिश्नर कार्यालय के पश्चिमी दिल्ली की चोरी-रोधी शाखा के अफसरों ने तकरीबन 91 करोड़ रुपये के माल रहित चालान के जरिए अस्वीकार्य इनपुट टैक्स क्रेडिट के लाभ/उपयोग तथा पारित करने के फेक मामले का पता लगाया है। 

वही इस केस में अस्वीकार्य क्रेडिट का फायदा उठाने और इनका इस्तेमाल करने और पारित करने की काम में कई फर्में सम्मिलित थीं। इस नेटवर्क में सम्मिलित फर्मों में मेसर्स गिरधर एंटरप्राइजेज, मेसर्स अरुण सेल्स, मेसर्स अक्षय ट्रेडर्स, मेसर्स श्री पद्मावती एंटरप्राइजेज तथा 19 अन्य सम्मिलित हैं। ये 23 फर्में सरकार को वास्तविक GST का भुगतान किए बिना धोखाधड़ी वाले ITC को पारित करने कि मंशा से माल-रहित चालान बनाने में सम्मिलित थीं। 

वहीं काफी वक़्त से चले आ रहे फर्जी चालान बनाने/बेचने के उक्त बिजनेस में दिनेश गुप्ता, शुभम गुप्ता, विनोद जैन और योगेश गोयल भी जुड़े थे। दरअसल ये संस्थाएं अलग अलग वस्तुओं का व्यवसाय कर रही हैं तथा 551 करोड़ रुपये के माल-रहित चालान बनाने तथा 91 करोड़ (लगभग) रूपए की अस्वीकार्य ITC पास करने में सम्मिलित हैं। वहीं पकड़े गए तीनों अपराधियों ने अपना अपराध कबूल करते हुए स्वेच्छा से बयान दिया है।

रिलीज हुआ अजय देवगन की फिल्म ‘भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया’ का पहला टीजर, इस दिन आएगा ट्रेलर

कोरोना महामारी के बीच मनाया जा रहा बेहदीनखलम, सिर्फ इन लोगों को होगी जाने की अनुमति

अगले तीन दिन तक इन शहरों में भारी वर्षा की संभावना, जारी हुआ ऑरेंज अलर्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -