महामारी से बेखौफ होकर 1000 से 1200 लोगों की भूख मिटा रहा यह कोरोना योध्दा

महामारी कोरोना वायरस की वजह से हर कोई डरा हुआ है. चिकित्सक, सफाईकर्मी और पुलिस हमारे लिए योद्धा की तरह मैदान में डटे हैं. इस लड़ाई में जहां चिकित्‍सक अपनी जान पर खेलकर कोरोना को मात दे रहे, वहीं पुलिसकर्मी भी पीछे नहीं हैं. इसके अलावा समाज के विभिन्न वर्गों से जुड़े लोग भी अपने दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं. ये कोरोना वॉरियर्स ही है जो चुपके से अपनी भूमिका निभा कर कोरोना को मात देने का काम कर रहे हैं. ऐसे ही एक कोरोना वॉरियर्स है कृष्ण गोयल.

90 पैकेट ब्राउन शुगर के साथ तस्कर गिरफ्तार, दूसरा साथी फरार

वायरस की वजह से फैली भूखमरी में कृष्ण गोयल रेलवे स्टेशनों पर लोगों को खाना खिलाने का काम कर रहे हैं. कृष्ण बताते हैं कि वह रोजाना 1000 से 1200 लोगों को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, पटेल नगर रेलवे स्टेशन पर खाना खिलाते हैं. वह बताते हैं कि रेलवे के कुछ अधिकारियों को भी उन्हें सहयोग मिला है. 

पीएम मोदी पर प्रियंका का वार, कहा- भगवान की बातें करना काफी नहीं, उस पर अमल भी करो

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि वह दोपहर को रेलवे स्टेशनों पर खाना वितरित करते हैं. वह कहते हैं कि कोरोना महामारी ने पूरे देश को जकड़ा हुआ है ऐसे में समाज के प्रति सबका दायित्व बन जाता है कि कोई भूखा न सोए. वह कहते हैं कि यह मेरी छोटी सी कोशिश है कि सबको खाना मिले. उनका कहना है कि मुझे इस कार्य में आत्मिक सुख मिलता है कि मैं लोगों का सहयोग कर पा रहा हूं. कृष्ण बताते हैं कि रेलवे मंत्रालय के प्रिंसिपल एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर ने भी रेलवे स्टेशनों पर खाना बांटने में सहयोग किया. 

विशाखापट्टनम में जहरीली गैस बनी लोगों का काल, 10 मिनट के भीतर प्रभावित की ले सकती है जान

आज प्रेस वार्ता करने वाले थे राहुल गाँधी, विशाखापट्टनम हादसे के कारण

टालीकोरोना से हुई थी कांस्टेबल अमित राणा की मौत, अब परिवार को एक

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -