कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिद्धू पहुंचे जलियांवाला बाग स्मारक, श्रद्धांजलि दी

कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिद्धू पहुंचे जलियांवाला बाग स्मारक,  श्रद्धांजलि दी

अमृतसर : कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 वर्ष पूरे होने के अवसर पर जलियांवाला बाग स्मारक स्थल पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद कहा कि स्वतंत्रता का जो मूल्य चुकाया गया है उसे भुलाया नहीं जाना चाहिए. राहुल गाँधी के साथ पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह, मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू समेत कांग्रेस के अन्य नेता भी उपस्थित थे. 

तमाम नेताओं ने जलियांवाला बाग के भीतर स्थित स्मारक स्थल पर सुबह श्रद्धांजलि दी, साथ ही 13 अप्रैल, 1919 को निर्मम तरीके से मौत के घाट उतारे गए लोगों के सम्मान में दो मिनट का मौन भी रखा गया. राहुल शुक्रवार रात अमृतसर पहुंचे, इसके बाद वे अमृतसर सिंह के साथ स्वर्ण मंदिर गए और वहां मत्था टेका. राहुल गांधी ने स्मारक की आगंतुक पुस्तिका में लिखा, 'स्वतंत्रता की कीमत को कभी भुलाया नहीं जाना चाहिए. हम भारत की जनता को सलाम करते हैं जिन्होंने आजादी के लिए अपना सब कुछ न्योछावर कर दिया.' 

भारत में ब्रिटेन के उच्चायुक्त डोमिनिक आस्क्वीथ भी शनिवार को जलियांवाला बाग स्मारक स्थल पहुंचे थे. उन्होंने यहाँ की आगंतुक पुस्तिका में लिखा, 'आज से 100 वर्ष पहले की जलियांवाला बाग घटना ब्रिटिश भारतीय इतिहास की एक बेहद शर्मनाक घटना है. जो कुछ भी हुआ और उससे उपजी पीड़ा से हमें काफी दुख है.' 

खबरें और भी:-

यूपी गठबंधन में मायावती की तानाशाही, जबरदस्ती उतराए रालोद प्रमुख के जूते

छत्तीसगढ़ में बोले शाह, कहा- नक्सली हमले में भाजपा विधायक की हत्या एक राजनितिक षड्यंत्र

मुसलमानों पर टिप्पणी कर फंसी मेनका, चुनाव आयोग ने तीन दिन में मांग जवाब