दिल्ली में जीन्स और टॉप, जनता के बीच आते ही साड़ी और सिन्दूर, ये ढकोसला क्यों ?- भाजपा

दिल्ली में जीन्स और टॉप, जनता के बीच आते ही साड़ी और सिन्दूर, ये ढकोसला क्यों ?- भाजपा

लखनऊ: प्रियंका गांधी के राजनीति में एंट्री करने के बाद सियासी गलियारों में हलचल पैदा हो गई है। विपक्ष के नेता लगातार प्रियंका को लेकर विवादित बयान दे रहे है। इस क्रम में नया नाम जुड़ गया है भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद हरीश द्विवेदी का। हरीश द्विवेदी ने प्रियंका के पहनावे को लेकर विवादित टिपण्णी की है। द्विवेदी ने कहा है कि प्रियंका गांधी जब दिल्ली में रहती हैं, तो वे जींस और टॉप जैसे मॉर्डन कपड़े पहनती है। लेकिन जैसे ही प्रियंका जनता के बीच जाती हैं तो वे साड़ी और सिंदूर में नज़र आती हैं, ये ढकोसला क्यों ?

टीएमसी विधायक की हत्या मामले में दो गिरफ्तार, भाजपा नेता मुकुल रॉय के खिलाफ भी एफआईआर

दरअसल, बस्ती में शनिवार को भाजपा सांसद आईटीआई कालेज के परिसर में आयोजित की गई मुख्यमंत्री विवाह योजना में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करने पहुंचे थे। यहां उन्होंने 225 जोड़ो की शादी कराई और उन्हे सुखी जीवन का आशीर्वाद दिया। इस दौरान उन्होंने प्रेस वालों से बात करते हुए कांग्रेस की नव नियुक्त महासचिव प्रियंका गांधी के पहनावे पर भी विवादित टिप्पणी की। उन्होंने कहा है कि प्रियंका गांधी दिल्ली में तो जींस और टॉप पहनती है। किन्तु जैसे ही लोगों के बीच जाती हैं तो वे साड़ी और सिंदूर ने दिखाई देती हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस तरह के ढकोसले पहले से करते आई है।

गुंटूर में बरसे पीएम, कहा जिस कांग्रेस के खिलाफ शुरू हुई थी तेदेपा, आज उन्ही के सामने हो गई नतमस्तक

उन्होंने कहा है कि, वैसे भी प्रियंका गांधी भाजपा के लिए कोई मसला नहीं है। उन्होंने कहा है कि, जिस तरह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी देश में फेल हो चुके हैं। उसी तरह से प्रियंका गांधी भी फेल हो जाएंगी। कांग्रेस को लेकर सांसद द्विवेदी ने कहा है कि इस बार के लोकसभा चुनाव में भाजपा के सामने खड़ा होने वाला कोई नहीं है। पीएम मोदी कि अगुवाई में भाजपा सरकार एक बार प्रचंड बहुमत से फिर से सत्ता में आएगी।

खबरें और भी:-

पूर्व कांग्रेस नेता ने खोली राहुल गाँधी की पोल, कहा पीएम मनमोहन के काम में भी देते थे दखल

मनी लॉन्ड्रिंग मामला: ईडी की पूछताछ पर वाड्रा ने तोड़ी चुप्पी, फेसबुक के माध्यम से रखी अपनी बात

बंगाल में लेफ्ट के साथ जाती दिख रही कांग्रेस, क्या मिलकर 'दीदी' के खिलाफ खोलेंगे मोर्चा ?