अफगानिस्तान में फंसे लोगों के लिए भारत ने शुरू की नई सेवा

नई दिल्ली: अफगानिस्तान के हाल ही में हो रहे घटनाक्रम को देखते हुए गृह मंत्रालय ने वीजा प्रावधानों की समीक्षा की। सरकार ने भारत में एंट्री के लिए आवेदनों को रफ़्तार से ट्रैक करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक वीजा की एक नई कैटेगरी का ऐलान किया है। गृह मंत्रालय ने एक बयान में बताया, “e-Emergency X-Misc Visa” नामक इलेक्ट्रॉनिक वीजा की एक नई श्रेणी तैयार की गई है जो भारत में एंट्री के लिए वीजा आवेदन की प्रक्रिया को तेज करेगा।

वही विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि काबुल के तालिबान राज होने के पश्चात् से भारत अफगानिस्तान के हालात पर नजदीक से दृष्टि रखे हुए है। उन्होंने अपने एक ट्वीट की श्रृंखला में बताया, "हम काबुल में हालात की निरंतर निगरानी कर रहे हैं। हम भारत लौटने के इच्छुक व्यक्तियों की चिंता को समझते हैं। फिलहाल एयरपोर्ट का संचालन मुख्य चुनौती है। इस सिलसिले में हम हिस्सेदारों के साथ बातचीत कर रहे हैं।"

साथ ही उन्होंने कहा, "हम काबुल में सिख एवं हिंदू समुदाय के नेताओं के साथ निरंतर संपर्क में हैं। उन्हें सुरक्षित अपने देश लाना हमारी प्राथमिकता होगी।" मंत्रालय ने कहा, “काबुल हवाई अड्डे पर वाणिज्यिक परिचालन को आज सस्पेंड कर दिया गया। इससे व्यक्तियों की वापसी की हमारी कोशिशों पर पाबंदी लग गयी। हम प्रक्रिया को फिर से आरम्भ करने के लिए उड़ानों के पुन: आरम्भ होने का इंतजार कर रहे हैं।" वहीं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने सोमवार को हेल्पलाइन नंबर (919717785379) के साथ-साथ ईमेल MEAHelpdeskIndia@gmail.com का भी ऐलान किया। इसके माध्यम से फंसे व्यक्ति अपनी बात भारत तक पहुंचा सकते हैं।

अफगानिस्तान के लोगों पर आया एक और संकट, भूकंप के झटकों से थर्राया इलाका

ऐश्वर्या राय से लेकर शाहरुख खान तक की फिल्म में नजर आ चुकी है तारक मेहता... शो की दया भाभी

साउथ फिल्मों की इस फिल्म से चमकी थी निधि अग्रवाल की किस्मत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -