चीन से लगी सीमा पर चौकसी बढ़ाएगा भारत

चीन द्वारा डोकलाम से सिर्फ 10 किमी दूर सड़क निर्माण शुरू करने के बाद भारत और चीन के बीच एक बार फिर डोकलाम का मुद्दा तूल पकड़ने के आसार बन रहे हैं. ऐसी दशा में भारत ने चीन से लगी सीमा पर चौकसी बढ़ाने का निर्णय लिया है.

उल्लेखनीय है कि चीन की विश्वसनीयता हमेशा से संदिग्ध रही है.इसलिए भारतीय सेना चीन से लगी सीमा पर अपनी स्थिति मजबूत करना चाहती है.ठोस कदम उठाने के तहत उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में चीन से लगी 4,057 किमी की वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारतीय सेना अधोसंरचना को मजबूत करना चाहती है.यह भारतीय सेना के लिए सबसे महत्वपूर्ण विषयों में से एक होकर प्राथमिकता के क्रम में है.

आपको बता दें गत शनिवार को रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने सिक्किम-भूटान-तिब्बत ट्राइ जंक्शन का दौरा किया था,वहीँ मंगलवार को एक कॉन्फ्रेंस में रक्षा मंत्री ने सेना के सामरिक बुनियादी ढांचे में सुधार की निगरानी कर सेना की क्षमता और विकास पर ध्यान केंद्रित करनेके साथ भारतीय सेना को मजबूत करने का आश्वासन दिया था. नई रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण इन दिनों देश की सरहदों का दौरा कर रही हैं

यह भी देखें

चीनी मीडिया में, सीतारमण के सीमा पर नमस्ते की हो रही चर्चा

रक्षा मंत्री ने किया नाथुला इलाके का दौरा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -