AMU में काल बनकर टूटा कोरोना, 20 दिनों में 19 प्रोफेसर व चेयरमैन की मौत

अलीगढ़ : उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी पर कोरोना की दूसरी लहर काल बनकर टूटी है। यहाँ पिछले 20 दिनों में 19 प्रोफसरों की मौत कोरोना व अन्य बीमारियों के कारण चुकी है। वहीं प्रोफेसर के अलावा AMU के कर्मचारी व रिटायर्ड कर्मचारियों के मरने वालों की तादाद 40 के पार पहुंच गई है।

AMU के लिए कोरोना की दूसरी लहर अधिक घातक साबित हो रही है। बता दें कि शिक्षाविद् सर सैयद अहमद खान ने 1875 में मोहम्मद एंग्लो ओरिएंटल कॉलेज की स्थापना की थी। जो 1920 में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के नाम से जाना जाने लगा। स्थापना के सन 1920 से लेकर आज तक AMU में इतना चिंताजनक दौर कभी नहीं आया, जब इतनी तादाद में मौजूदा प्रोफेसर, सेवानिवृत्त प्रोफेसर और अन्य कर्मचारियों का इंतकाल हुआ हो।

AMU की इंतजामिया इस पर चिंता में है और साथ ही साथ एएमयू में मातम का माहौल है। लगभग हर दिन ही AMU इंतजामिया किसी न किसी प्रोफेसर, रिटायर्ड प्रोफेसर व अन्य स्टाफ के निधन पर शोक प्रकट कर रहा है। बीते 20 दिनों में अब तक AMU के 19 प्रोफेसरों का देहांत हो चुका है। इनमें रिटायर्ड प्रोफेसर व अन्य कर्मचारी शामिल नहीं हैं। ऐसे लोगों को जोड़कर मरने वालों की तादाद 40 से ज्यादा बताई जा रही है।

कोरोना की दहशत, मलेशिया ने कई एशियाई देशों पर लगाया यात्रा बैन

81,251 करोड़ रुपये से 8 बड़ी संस्थाओं का होगा बाजार पूंजीकरण

नेशनल हाईवे पर हुआ बड़ा हादसा, 3 बच्चे सहित 11 लोग हुए घायल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -