महाराष्ट्र की 100 लड़कियों ने एक साथ छोड़ा स्कूल, कहा- यहाँ नहीं पढ़ सकते

Jul 21 2019 02:26 PM
महाराष्ट्र की 100 लड़कियों ने एक साथ छोड़ा स्कूल, कहा- यहाँ नहीं पढ़ सकते

गढ़चिरोली: महाराष्ट्र के गढ़चिरोली जिले स्थित आश्रम स्कूल में रहने वाली 100 से अधिक बच्चियों ने स्कूल छोड़ दिया है. बच्चियों ने कहा है कि इस स्कूल में महिला वॉर्डन नहीं है. कोई महिला कर्मचारी भी यहां न होने से छात्राएं असुरक्षित महसूस करती है, जिसकी वजह से उन्होंने स्कूल छोड़ने का फैसला लिया है. स्कूली बच्चियों का कहना है उन्होंने इस सम्बन्ध में कई बार शिक्षा और अन्य संबंधित विभागों को शिकायत की है, किन्तु कोई भी इस मामले पर एक्शन लेने का तैयार नहीं है, इसलिए उनके पास अंत में स्कूल छोड़ने का ही एक मात्र रास्ता बचा है.

उल्लेखनीय है कि गढ़चिरोली जिले के सिरोंचा में अनुसूचित जनजातियों की बच्चियों के लिए नवबौध्द सरकारी आश्रम स्कूल आरंभ किया गया है. जिले के अलग-अलग गाँव से आकर आदिवासी बच्चियां यहां पर पढ़ती है. छह वर्ष पूर्व यह स्कूल शुरू किया गया था. तब से लेकर आज तक यहां पर कोई भी महिला वॉर्डन की नियुक्ती नहीं की गई है. साथ ही कोई भी अन्य महिला कर्मचारियों की नियुक्ती भी नहीं हुई है, जिस वजह से बच्चियों को काफी समस्या हो रही है.  

बच्चियों का कहना है की उन्होंने इस संबंध में कई बार प्रशासनिक अधिकारियों को सूचना दी गई है, लेकिन कोई भी एक्शन नहीं लाया गया. एक बच्ची ने बताया है कि वर्ष में दो बार आश्रम स्कूल का सर्वेक्षण किया जाता है. स्कूल में सर्वेक्षण के दौरान आने वाली टीम से कई दफा महिला वॉर्डन और महिला कर्मचारी ना होने की बात कही गई है, किन्तु अब तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है. 

टेकऑफ के लिए बिलकुल तैयार था विमान, तभी पंखे पर चढ़ गया एक नौजवान

अगर जा रहे हैं ITR दाखिल करने, तो ये जानकारी आपके लिए होगी फायदेमंद

National Ice Cream Day : हर जुबां पर है आइसक्रीम का स्वाद, जानिए कहां से हुई शुरूआत