इंदौर जू से भागा तेंदुआ अब तक नहीं मिला, शहर में जारी अलर्ट

इंदौर: वन विभाग और कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय के कर्ताधर्ताओं की लापरवाही से बुरहानपुर से बीते बुधवार रात चिड़‍ियाघर लाई गई 10 महीने की मादा तेंदुआ पिंजरा तोड़कर भाग गई है। जी हाँ और अब तक उसका पता नहीं चला है। आपको बता दें कि मादा तेंदुआ बुरहानपुर से रेस्क्यू कर वन विभाग की टीम जर्जर हुए पिंजरे में रखकर लाकर लाई गई थी। वहीं बारीश की वजह से टीम ने वाहन को त्रिपाल से ढंक रखा था।

वाहन चिड़‍ियाघर में खड़ा था। बताया जा रहा है रेस्क्यू टीम ने रात को साढ़े 11 बजे तक सर्चिंग की गई लेकिन मादा तेंदुआ का कोई निशान नहीं मिला। अब आज यानी शुक्रवार दोपहर 12 बजे बाद फिर से तलाश शुरू होने वाली है। बीते बुधवार को रेस्‍क्यू टीम वन विभाग की नवरतन बाग स्थित गेस्ट हाउस पर चली गई थी और बीते कल गुरुवार की सुबह जब वन विभाग की टीम और चिड़‍ियाघर के कर्मचारी ने तेंदुए को पिंजरे में शिफ्ट करने के लिए त्रिपाल हटाया तो तेंदुआ पिंजरे में नहीं था। यह होने के बाद दोनों विभागों के अधिकारियों के बीच हड़ंकप मच गया।

दिनभर में तीन बार सर्चिंग की गई, जहां वाहन रखा गया था जू प्रबंधन ने वहां के कैमरे खराब होने की बात कही। दूसरी तरफ वन विभाग के लोग कहना था कि कैमरे में साफ नहीं लेकिन तेंदुआ के गुजरने की झलक नजर आ रही है। इस मामले में स्नीफर डाग भी गायब हुए तेंदुआ तलाशने में भ्रमित हो रहे थे। यह भी कहा जा रहा है कि तेंदुआ इतना बड़ा नहीं है जो किसी का शिकार कर सके, हालांकि वह किसी को घायल जरूर कर सकता है।

Ind Vs NZ: टीम इंडिया से जडेजा-रहाणे और इशांत बाहर, न्यूज़ीलैंड को भी लगा बड़ा झटका

बिना शादी के प्रेग्नेंट हुईं अलाना पांडे, घरवालों हुए शॉक्ड

बारबाडोस के इवेंट में पहुंची रिहाना, सिंगर का लोग देख हर कोई हुआ हैरान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -