गेहलोत और पायलट के बीच बना नया गुट, जानिए क्यों

Feb 28 2021 12:14 PM
गेहलोत और पायलट के बीच बना नया गुट, जानिए क्यों

राजस्थान में गहलोत पायलट की गुटबाजी और शक्ति प्रदर्शन से मुकाबला कर रही कांग्रेस के लिए राज्य में शनिवार का दिन एक उम्मीद और राहत लेकर आया. एक बार फिर से अशोक गहलोत और सचिन पायलट एक साथ, एक मंच पर, एक हेलिकॉप्टर में और एक माले में नज़र आए . वह भी मुस्कुराते हुए.  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट दोनों एक ही हेलिकॉप्टर में 2 किसान रैलियों को संबोधित करने जा रहे है.

चॉपर में गहलोत-पायलट के साथ राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन और PCC अध्यक्ष गोविंद डोटासरा भी शामिल थे. चारों ने पहले डूंगरगढ़ मे कृषक सम्मेलन को सबोधित किया फिर चितौड़गढ़ के मातृकुंडिया में इसके साथ ही पायलट का पद-कद भी तय  किया जा चुका है. भले ही पायलट लोकप्रिय हैं. वह राजस्थान में कांग्रेस में गहलोत के उपरांत दूसरे नंबर के प्रभाव वाले नेता हों. लेकिन पायलट अब चौथे नंबर पर रहने वाले है. शनिवार के दौरे से मंच पर बैठने और रैलियों में भाषण का एक प्रोटोकोल तय किया जा चुका है. मंच पर गहलोत के एक तरफ गोविंद सिंह डोटासरा तो दूसरी तरफ अजय माकन बैठे थे. मंच पर माकन के आगे पायलट बैठे. यानी गहलोत-पायलट अब एक दूसरे के आमने- सामने भी नहीं बैठने वाले है.

पायलट को अब चौथे नंबर से संतोष करना होगा: जंहा इस बात का पता चला है कि दोनो के बीच अब राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अजय माकन रहने वाले है. माकन ही गहलोत पायलट के मध्य दूरी में सेतु बने. पायलट का बैठने में क्रम चार में रहने वाला है. भाषण का भी क्रम तय हो गया. गहलोत से पहले सचिन पायलट नहीं. गोविंद सिंह डोटासरा ने रैली को संबोधित भी कर सकते है. डोटासरा से पहले प्रभारी अजय माकन ने संबोधित किया. उससे भी पहले सचिन पायलट ने, यानी रैली में पायलट का ऊपर से चौथा क्रम है. हालांकि पायलट इससे संतोष कर सकते हैं कि न वे डिप्टी सीएम है न पीसीसी चीफ. जिसके उपरांत वह चौथे क्रम पर है. कम से कम गहलोत सरकार के मंत्रियों से पहले तो उनका नंबर आ ही रहा है. कुछ दिन पहले तक पायलट न सिर्फ अलग किसान रैलियां कर रहे थे. रैलियों में अपने गुट के विधायकों को एक जुटकर शक्ति प्रदर्शन कर रहे थे. इसे पायलट समर्थकों की बगावत के रुप में देखा जा रहा था.

न्यूजीलैंड में काबू के बाहर हुई कोरोना महामारी, हालात हुए और भी गंभीर

मन की बात से पहले राहुल गांधी ने प्रधांनमंत्री मोदी पर साधा निशाना, कहा- हिम्मत है तो...

न्यूजीलैंड में नए कोरोना मामले आने के बाद जारी हुआ अलर्ट