अक्टूबर में भारत बायोटेक की 'कोवैक्सीन' को मंजूरी दे सकता है WHO

नई दिल्ली: भारत बायोटेक (Bharat Biotech) द्वारा निर्मित कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन (covaxin) को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की मंजूरी का इंतजार अब खत्म होने जा रहा है. हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक अपने स्वदेशी कोरोना वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’ के लिए WHO से बहुप्रतीक्षित इमरजेंसी यूज ऑथराइजेशन (EUA) मिलने का इंतज़ार कर रहा है. हालांकि, WHO के गाइडेंस डॉक्यूमेंट से पता चलता है कि कोवैक्सिन के लिए फाइनल अप्रूवल अक्टूबर तक पूरा होने की संभावना है.

अक्टूबर में आपातकाल इस्तेमाल के लिए WHO की स्वीकृति के सिलसिले में स्ट्रैटेजिक एडवाइजरी ग्रुप ऑफ एक्सपर्ट्स (SAGE) की मीटिंग होने वाली है. यह बैठक पांच अक्टूबर को रखी गई है और उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक में भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोवैक्सीन को WHO द्वारा हरी झंडी दी जा सकती है. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने संकेत दिया था कि वैश्विक स्वास्थ्य निकाय जल्द ही कोवैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल को हरी झंडी दे सकता है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, स्वास्थ्य मंत्रालय में केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ भारती प्रवीण पवार ने कहा कि, 'फिलहाल वैक्सीन निर्माता कंपनी द्वारा अप्रूवल के लिए डाक्यूमेंट्स जमा करने की एक प्रक्रिया चल रही है. कोवैक्सिन को WHO का आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण जल्द ही अपेक्षित है.'

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आया भारी उछाल

अगले कुछ दिनों में सस्ता होगा सोना चांदी!

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 8 पैसे गिरकर इतने में बंद हुआ बाजार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -