थमने का नाम नहीं ले रहा है प. बंगाल में जारी राजनीतिक हिंसा का दौर

Jun 11 2019 10:03 AM
थमने का नाम नहीं ले रहा है प. बंगाल में जारी राजनीतिक हिंसा का दौर

कोलकाता : प. बंगाल में जारी राजनीतिक हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता के शव पेड़ से लटके मिले। भाजपा कार्यकर्ता समातुल दोलुई के शव को हावड़ा के सरपोता गांव के लोगों ने खेतों में पेड़ से लटका हुआ पाया। भाजपा नेताओं और दोलुई के परिवार ने इसका आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगाया है। 

किर्गिस्तान में पुतिन और जिनपिंग से मिलेंगे पीएम मोदी, इमरान से मुलाकात पर साफ़ इंकार

मिल रही है जान से मारने की धमकियाँ 

जानकारी के मुताबिक हावड़ा के भाजपा अध्यक्ष अनुपम मलिक ने कहा, 'दोलुई भाजपा का एक सक्रिय सदस्य था और लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी को उसने अपने बूथ से बढ़त दिलाई थी। अपने इलाके में 'जय श्री राम' की रैली निकालने के बाद से ही उसे जान से मारने की धमकियां मिल रही थी। टीएमसी के असमाजिक तत्वों ने लोकसभा चुनाव के तुरंत बाद उसके घर में तोड़-फोड़ की थी।

पुडुचेरी के पूर्व सीएम आर वी जानकीरमन का दुखद निधन, कई दिग्गज नेताओं ने जताया शोक

इसी के साथ दोलुई के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाते समय कुछ बदमाश उसे छीनने की कोशिश कर रहे थे। जिसका कुछ गांवावलों ने विरोध किया और जिला प्रशासन से रैपिड एक्शन फ़ोर्स की तैनाती करने के लिए कहा। इससे एक दिन पहले आरएसएस के वरिष्ठ नेता स्वदेश मन्ना भी अत्चाता गांव में पेड़ से लटके हुए मिले थे। मन्ना पिछले कुछ दिनों से जय श्री राम की रैलियां निकाल रहे थे। 

राजस्थान सीएम अशोक गहलोत ने गिरीश कर्नाड के निधन पर जताया शोक, किया ट्वीट

आज सभी मंत्रालयों के सचिवों के साथ बैठक करेंगे पीएम मोदी

सिंधिया की हार से दुखी हुआ प्रशंसक, शर्ट और चप्पल पहनना छोड़ा