बंगाल में 'हाई कोर्ट' का आदेश भी 'बेअसर', भाजपा कार्यकर्ता फिर हुए लहूलुहान, 30 घरों में लूटपाट

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में सियासी हिंसा को लेकर कलकत्ता उच्च न्यायालय की सख्त टिप्पणी के बाद भी भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले थम नहीं रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आरोप लगाते हुए कहा है कि पूर्वी मेदिनीपुर के भगबानपुर में उसके कार्यकर्ताओं की निर्दयता से पिटाई की गई है। पार्टी द्वारा साझा की गई तस्वीरों में खून से लथपथ लोगों को देखा जा सकता है। इस घटना के लिए राज्य की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) को जिम्मेदार ठहराया गया है।

 

Anindya नामक एक पत्रकार ने ट्विटर पर बताया है कि, 'अब जब हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक में बंगाल हिंसा को लेकर कई याचिकाओं पर सुनवाई जारी है, भाजपा ने दावा किया है कि हिंसा का आलम अब भी जारी है। भाजपा का आरोप है कि पूर्वी मेदिनीपुर के भगबानपुर में क्रूर तरीके से पार्टी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ हिंसा की गई है। पार्टी ने तस्वीरें भी साझा की हैं।” हालाँकि, ये स्पष्ट नहीं है कि ये हमला क्यों किया गया।

बता दें कि भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला तब हुआ, जब वो अपने घर लौट रहे थे। इस हमले में बम और बंदूकों का उपयोग किया गया। इसके साथ ही 30 घरों में लूटपाट और उन्हें नष्ट करने का आरोप भी लगाया गया है। बता दें कि भगबानपुर विधानसभा क्षेत्र से इस बार के चुनाव में भाजपा ने जीत दर्ज की है। भाजपा के रवीन्द्रनाथ मैती ने TMC के सिटिंग विधायक अर्धेंदु मैती को हराया था। कहा जा रहा है कि इसीलिए तृणमूल के गुंडे बौखलाए हुए हैं।

अर्जेंटीना ने कोविड टीकाकरण पर बनाया नया रिकॉर्ड

तीरथ सिंह के इस्तीफे के बाद फिर CM विहीन हुआ उत्तराखंड, जानें कौन होंगे अगले मुख्यमंत्री

यूपी जिला पचायत अध्यक्ष के लिए 53 जिलों में वोटिंग कल, मतदान से पहले ही 22 सीटें जीत चुकी है भाजपा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -