महाराष्ट्र CM पद पर फंसा पेंच, नतीजे आते ही दिखे शिवसेना ने उखड़े राग

महाराष्ट्र CM पद पर फंसा पेंच, नतीजे आते ही दिखे शिवसेना ने उखड़े राग

चुनावी दंगल के बीच महाराष्ट्र से परिणाम आ चुके है वही एक नयी उलझन सामने आयी है महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी के बीच मुख्यमंत्री पद को लेकर पेंच फंसता जा रहा है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा है कि उनकी पार्टी 50-50 फॉर्मूले से नहीं झुकेगी. उधर, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि शिवसेना मोलभाव करने वाली पार्टी नहीं, हिंदुत्व के मुद्दे पर एकसाथ आए हैं. कुछ अपेक्षाएं हो सकती हैं, मिलकार बात की जाएगी. फड़णवीस ने कहा कि हमें 105 सीटे मिली हैं, हमारी सीटें कम हुई है.

ध्यान देने वाली बात ये है की महाराष्‍ट्र की 288 सीटों में से बीजेपी-शिवसेना गठबंधन 163 सीटों पर आगे है. इनमें से बीजेपी 99, शिवसेना 60, कांग्रेस 43, एनसीपी 56 सीटों पर आगे है. अन्‍य 32 सीटों पर आगे हैं. इस तरह रुझानों के मुताबिक सत्‍तारूढ़ गठबंधन को भले ही बहुमत मिलता दिख रहा हो लेकिन 2014 के चुनावों की तरह बीजेपी और शिवसेना का प्रदर्शन नहीं दिख रहा है. 2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 122 सीटें मिली थीं और शिवसेना को 61 सीटों पर जीत मिली थी. महाराष्‍ट्र के रुझानों पर शिवसेना नेता संजय राऊत ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि बीजेपी के साथ महाराष्‍ट्र में हमारा फॉर्मूला 50-50 का था, हम बराबर के साझेदार हैं. नतीजों के बाद सीएम पद के लिए बीजेपी से बातचीत होगी. महाराष्‍ट्र में शिवसेना-बीजेपी सरकार बनेगी.

शिवसेना के साथ गठबंधन के मसले पर एनसीपी अध्‍यक्ष शरद पवार ने कहा कि शिवसेना के साथ हमारी विचारधारा नहीं मिलती. वैसे सरकार पर एनसीपी-कांग्रेस मिलकर फैसला करेंगे. जनता का हमें पूरा सहयोग मिला. हालांकि चुनाव में बीजेपी ने गलत माहौल बनाया. बीजेपी के गलत आरोपों को जनता ने नकार दिया.

BJP उम्मीदवार सोनाली फोगाट हरियाणा में हुई फ़ैल, Tik Tok स्टार का नहीं चला जादू

विधानसभा चुनाव 2019 : महाराष्ट्र के रुझानों में BJP की वापसी, हरियाणा में फंसी

हरियाणा चुनाव Live : बीजेपी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने सौपा इस्तीफा