उत्तराखंड में सभी जिलाधिकारियों को मानसून से पहले आपदा प्रबंधन तैयारियों के निर्देश

Apr 24 2019 08:58 PM
उत्तराखंड में सभी जिलाधिकारियों को मानसून से पहले आपदा प्रबंधन तैयारियों के निर्देश

देहरादून : उत्तराखंड शासन ने सभी जिलाधिकारियों को मानसून से पहले आपदा प्रबंधन से संबंधित सभी तरह की तैयारियों करने के निर्देश दिए हैं। इस संबंध में 29 बिंदुओं की एक एडवाइजरी जारी की गई है। जिसमें उन्हें बाढ़, भूस्खलन के संभावित खतरे वाले संवेदनशील स्थानों के चिन्हीकरण और प्राकृतिक आपदाओं की स्थिति में सतर्कता और खतरे से निपटने के हर तरह के उपायों की तैयारी रखने को कहा गया है। 

इस पहाड़ी राज्य में फिर बिगड़ेगा मौसम, जारी हुई ऐसी चेतावनी

जारी हुई ऐसी एडवाइजरी

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सचिव आपदा प्रबंधन ने ये एडवाइजरी जारी की है। जिलाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठकों का आयोजन करें। इन बैठकों में आपदा प्रबंधन की कार्ययोजना तैयार की जाए। इसका कार्यवृत्त शासन को उपलब्ध कराया जाए। जनपदों में प्राथमिकता के आधार पर भूस्खलन, बाढ़ से संबंधित संवेदनशील स्थानों के चिन्हीकरण, मानसून के दौरान आपातकालीन परिचालन केंद्रों की स्थापना और बाढ़ नियंत्रण केंद्रों को 24 घंटे सक्रिय रखने पर भी जोर दिया गया है।

नेपाल में फिर आये भूकंप के झटक, रिक्टर स्केल पर तीव्रता 4.8

सतर्कता बरतने के निर्देश

इसी के साथ आपदा प्रबंधन की कार्ययोजना को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए जनपद स्तर के प्रत्येक विभाग से समन्वय के लिए विभागीय नोडल अधिकारी नामित करने के निर्देश दिए गए हैं। नोडल अधिकारियों के नाम व मोबाइल नंबर आपातकालीन परिचालन केंद्र व राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र में उपलब्ध कराए जाने को कहा गया है। शासन ने मानसून के दौरान नदियों के जलस्तर को लेकर खास सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। 

पंजाब के गुरदासपुर से चुनावी मैदान में उतरेंगे सनी देओल, बीजेपी ने दिया टिकिट

इस गंभीर बिमारी के कारण अस्पताल में एडमिट हुईं आशा नेगी

यूपी के खीरी में आज जनसभा को संबोधित करेंगे राहुल गांधी