दुर्गा अष्टमी पर सरयू स्नान के बाद साधू ने की होश उड़ा देने वाली हरकत

लखनऊ: रामनगरी अयोध्या में सरयू घाट पर सोमवार को एक साधू ने अपना दाहिना हाथ काटकर अलग कर डाला है। घटना से पहले साधु ने नदी में स्नान करने के उपरांत  पीले वस्त्र भी पहने। जिसके उपरांत  पूजा-अर्चना की। दुर्गा अष्टमी के दिन ऐसा करने के पीछे तंत्र-मंत्र की आशंका भी व्यक्त की जा रही है।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। घायल साधु और उसके कटे हुए हाथ को उठाकर हॉस्पिटल भेज दिया गया। पुलिस ने जानकारी दी है कि साधु की हालत फिलहाल गंभीर बताई जा रही है।  साधु बिहार प्रांत के अररिया के बरगवां थाना सीमा में आने वाले सेमरवानी गांव का रहने वाला है। उसकी पहचान विमल कुमार मंडल पुत्र स्वर्गीय रामदत्त मंडल के रूप में की गई है।

कोतवाली अयोध्या प्रभारी विमल कुमार शर्मा ने कहा है कि, "साधु की दिमागी हालत ठीक नहीं लग रही है। आशंका वक्त की जा रही है कि यह काम उसने तंत्र-मंत्र के लिए किया है। साधु की जेब से पीएम नरेंद्र मोदी के नाम लिखा गया एक पत्र भी मिला है।"  उन्होंने आगे सूचना दी, "जिसमे पीएम आवास योजना, मनरेगा मिट्टी भराई, शौचालय योजना, राजस्व और भूमि सुधार सड़क ढलाई योजना, कन्या विवाह योजना सहित कई अन्य योजनाओं में अनियमितता और भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की अपील भी की।"

खबरों का कहना है कि साधु के पास से मिले पत्र के आधार पर पुलिस यह भी आशंका जता रही है कि वह किसी तरह के भ्रष्टाचार को लेकर दुखी था। जिसके उपरांत उसने अपना पंजा काटा। बहरहाल, पुलिस केस की कार्रवाई मे जुटी है। घटनाक्रम से जुड़ी और जानकारियों को जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस ने साधू के परिजनों से संपर्क कर उन्हें घटना की जानकारी सौंप दी है।

CDS अनिल चौहान को दी गई Z सिक्योरिटी, IB की रिपोर्ट के बाद गृह मंत्रालय का फैसला

NASA के प्रोजेक्ट के लिए चुनी गई छत्तीसगढ़ की आदिवासी बेटी, पिता चलाते हैं साइकिल रिपेयर की दूकान

यूपी-उत्तराखंड समेत इन राज्यों में भारी बारिश का अनुमान, देखें मौसम विभाग के अपडेट

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -