'ये आपके बच्चे होते तो', लखनऊ में युवाओं पर लाठीचार्ज से भड़के वरुण गाँधी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में 69,000 सहायक शिक्षकों की भर्ती का मामला तेजी से जोर पकड़ रहा है। जी दरअसल यहाँ अभ्यर्थी अनियमितता का आरोप लगाकर लगातार प्रदर्शन करते हुए नजर आ रहे हैं। अब आज लखनऊ में विरोध जताने के लिए कैंडल मार्च निकाल रहे अभ्यर्थियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इस मामले के सामने आने के बाद राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई है। हाल ही में समाजवादी पार्टी ने लाठीचार्ज का वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया। इसी के साथ आज सांसद वरुण गांधी ने भी वीडियो ट्वीट कर दुःख जताया है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है-'ये बच्चे भी मां भारती के लाल हैं, इनकी बात मानना तो दूर, कोई सुनने को तैयार नहीं है। इस पर भी इनके ऊपर ये बर्बर लाठीचार्ज। अपने दिल पर हाथ रखकर सोचिए क्या ये आपके बच्चे होते तो इनके साथ यही व्यवहार होता??… आपके पास रिक्तियां भी हैं और योग्य अभ्यर्थी भी, तो भर्तियां क्यों नहीं??’' वहीं दूसरी तरफ राहुल गाँधी ने ट्वीट कर लिखा है- 'रोज़गार माँगने वालों को #UP सरकार ने लाठियाँ दीं- जब भाजपा वोट माँगने आए तो याद रखना!'

इसी के साथ यूपी के पूर्व सीएम व समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने वीडियो ट्वीट कर लिखा- 'भाजपा के राज में भावी शिक्षकों पर लाठीचार्ज करके ‘विश्व गुरु’ बनने का मार्ग प्रशस्त किया जा रहा है। हम 69000 शिक्षक भर्ती की मांगों के साथ हैं। युवा कहे आज का ~ नहीं चाहिए भाजपा।' उन्होंने वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा- '69000 शिक्षक भर्ती में पिछड़ों-दलितों का आरक्षण मारने वाले CM अब लाठियां बरसा रहे हैं। लखनऊ में शांतिपूर्ण तरीके से कैंडल मार्च निकाल रहे 69000 शिक्षक भर्ती के अभ्यार्थियों पर पुलिस द्वारा बर्बर लाठीचार्ज दुखद एवं शर्मनाक! …। युवा बेरोजगारों इंकलाब होगा, बाइस में बदलाव होगा।'

UP विधानसभा चुनावों में BJP के लिए कैंपेन पर बोलीं कंगना- 'जरूर करुँगी'

नगालैंड: 11 नागरिकों की मौत, अमित शाह ने किया बड़ा एलान

हिमाचल में पार हुआ 100 प्रतिशत का आंकड़ा हुआ पार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -