कराची हमले पर बोला UNSC, कहा- आतंकवाद का हर कृत्य अपराध ही है, चाहे मकसद जो भी हो

जेनेवा: संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) ने कराची स्थित पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज में हुए आतंकी हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है. 29 जून को हुए इस आतंकी हमले में 4 आतंकी सहित 11 लोगों की जान गई थी. UNSC ने कहा कि आतंकवाद अपने किसी भी रूप में अतंरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए खतरा है, सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने कहा कि आतंकवाद के प्रत्येक रूप की कड़ी आलोचना होनी चाहिए और यह दुनिया के लिए गंभीर खतरा है.

सुरक्षा परिषद ने दोहराया कि आतंकवाद का हर तरह का कृत्य आपराधिक है और इसे माफ नहीं किया जा सकता. सुरक्षा परिषद ने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि इस कृत्य का मकसद क्या है, इसे किसने किया है और कब किया है. सुरक्षा परषिद ने कहा कि दुनिया के सभी मुल्क अपने पास मौजूद सभी साधनों के द्वारा यूनाइटेड नेशंस के चार्टर और दूसरे अंतरराष्ट्रीय कानूनों के अनुसार आतंकवाद से लड़े.

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की हिंसा को कथित आजादी की लड़ाई से जोड़ने वाले पाकिस्तान के लिए सुरक्षा परिषद का ये बयान सख्त संदेश है. सुरक्षा परिषद ने साफ़ कर दिया है कि आतंक केवल आतंक है और इसके उद्देश्य के आधार पर इसे वैधता का जामा नहीं पहनाया जा सकता है. सुरक्षा परिषद ने इस आतंकी हमले में मारे गए लोगों के परिवारवालों के साथ गहरी संवेदना प्रकट करते हुए इस हमले में घायल हुए लोगों के जल्द ठीक होने की कामना की.

लद्दाख झड़प में मारे गए थे 100 से अधिक चीनी सैनिक, CCP के पूर्व नेता के बेटे का दावा

राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून का हांगकांग में विरोध जारी, भारतीय राजदूत ने कही यह बात

भारत ने दिया चीन को बड़ा झटका, 59 चीनी एप के प्रतिबन्ध से 6 अरब डॉलर का हुआ नुकसान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -