इस वजह से 24 अक्टूबर को मनाया जाता है 'यूनाइटेड नेशंस डे'

Oct 24 2019 07:00 AM
इस वजह से 24 अक्टूबर को मनाया जाता है 'यूनाइटेड नेशंस डे'

आप सभी को बता दें कि आज 'यूनाइटेड नेशंस डे' है. UN ने दुनिया में शांति, अंतरराष्ट्रीय विवादों के निपटारे, भूखमरी रोकथाम और सामाजिक एकता के लिए कई कारगर उपाय बताए और इस दिन को 24 अक्टूबर को मनाया जाता है. अब आज हम बता रहे हैं आपको यूएन कुछ बातें.

संगठन निर्माण के पीछे का कारण - कहा जाता हैं दूसरे विश्व युद्ध के दौरान भयंकर उन्माद और उत्पात का माहौल व्याप्त था और कई देश आपस में बुरी तरह से उलझ रहे थे. उस समय जरूरत थी एक ऐसे संगठन की जो सही गलत में फर्क करके देश के बीच विवादों को निपटा सके. वहीं उस दौरान दुनियाभर में सुरक्षा-शांति, जलवायु परिवर्तन, मानवाधिकार आतंकवाद, लैंगिक समानता जैसे मुद्दों को ध्यान में रखते हुए इस संगठन को बनाया गया था और यूएन के गठन में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति फ्रैंकलीन डी. रूजवेल्ट की बड़ी भूमिका थी. कहा जाता है रूजवेल्ट ने इस 'यूनाइटेड नेशंस' नाम का इस्तेमाल सबसे पहले 1 जनवरी 1942 को किया था और रूसावेल्ट ने जब इस शब्द का इस्तेमाल किया था तब दूसरा विश्व युद्ध का समय था.

इसी के साथ उस समय जंग छिड़ी थी किसी मुल्क के जख्म भर रहें थे तो किसी देश को नये जख्म मिल रहे थे और विश्व भर की शांति के लिए 26 देशों के प्रतिनिधियों को शामिल कर यूनाइटेड नेशंस' के लिए एक घोषणापत्र तैयार किया गया था. साल 1945 में यूनाइटेड नेशंस चार्टर तैयार करने के लिए अमेरिका ने सैन फ्रैंसिस्को में एक आयोजन किया गया जिसके बाद 50 देशों ने इसमें हिस्सा लिया और अपनी मौजूदगी के दौरान पचास देशों के प्रतिनिधियों ने सहमति जताते हुए 26 जून 1945 को यूनाइटेड नेशंस चार्टर पर हस्ताक्षर करते हुए अपनी सहमति भी जता दी. आपको बता दें कि 24 अक्टूबर को आधिकारिक तौर पर संगठन की स्थापनी हुई और तब से हर साल 24 अक्टूबर को यूनाइटेड नेशंस डे के तौर पर मनाया जाने लगा.

96 वर्षीय इस पूर्व अमेरिकी विदेश मंत्री ने भारत-अमेरिका संबंधों को लेकर कही यह बात

भारत-बांग्लादेश सीरीज अधर में, बांग्लादेशी क्रिकेटर्स का खेलने से इनकार, जाने कारण

पीएम मोदी ने अमेरिका,ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के इन दिग्गज नेताओं से की मुलाकात