ऑडियो क्लिप मामले में बुरे फंसे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

उत्तरप्रदेश के कैराना के साथ ही महाराष्ट्र के पालघर में भी लोकसभा उपचुनाव है, चुनाव से ठीक पहले यहाँ पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस मुसीबतों में फंसते नजर आ रहे है. शिवसेना प्रमुख ने देवेंद्र फडणवीस की ऑडियो क्लिप जारी की है, जिसमें मुख्यमंत्री कार्यकर्ताओं से चुनाव जीतने के लिए हर तौर-तरीका अपनाने की बात कर रहे है, वहीं भाजपा ने इस क्लिप को छेड़छाड़ से जोड़कर फर्जी बताया है साथ ही भाजपा ने कहा है कि वह चुनाव आयोग से शिकायत कर जल्द ही पूरी ऑडियो क्लिप जारी करेगी. 

ऑडियो क्लिप में मुख्यमंत्री को कहते सुना जा रहा है "पालघर में यदि कोई हमारे वजूद को चुनौती दे रहा है और हमसे विश्वासघात कर रहा है, हमारा सहयोगी बताते हुए हमारे पीठ में छुरा मारा है, तो उन्हें सबक सिखाया जाना चाहिए. हमें अब चुप नहीं बैठना चाहिए. हमें बड़ा हमला करना चाहिए और उन्हें दिखा देना चाहिए कि भाजपा क्या है. यदि हम इस चुनाव को जीतना चाहते हैं, तो उसी तरह का जवाब देना होगा. ‘ साम , दाम , दंड , भेद ’ का इस्तेमाल कर जवाब दें. किसी की धौंस बर्दाश्त नहीं करें. उलटा उन पर धौंस जमाएं, मैं आपके पीछे खड़ा रहूंगा.’’

 क्लिप जारी होने के बाद ही शिवसेना और एनसीपी ने इस मामले की जांच के लिए चुनाव आयोग से गुजारिश की है. साथ ही सांसद संजय राऊत ने कहा है कि विपक्षी दलों के लिए मुख्यमंत्री के द्वारा इस तरह की भाषा का प्रयोग पद को शोभा नहीं देता. साथ ही महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने भी इस क्लिप के मामले में मुख्यमंत्री से जवाब माँगा है. 

मोदी के 4 साल जनता के 12 सवाल

एनडीए में विपक्ष से ज्यादा पार्टियां है- दिग्विजय सिंह

एक ऐसी बैंक चोरी जिसने दुनियाभर के बैंकों की पोल खोलकर रख दी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -