देशभर में कोरोना वैक्सीनेशन ने पकड़ी तेजी, अब तक 1 करोड़ से अधिक लोगों को लगाया जा चुका है टीका

Mar 06 2021 10:01 AM
देशभर में कोरोना वैक्सीनेशन ने पकड़ी तेजी, अब तक 1 करोड़ से अधिक लोगों को लगाया जा चुका है टीका

16 जनवरी 2021 से भारत में कोविड की वैक्सीन लगाने की मुहिम की शुरुआत की जा चुकी है. वहीं, अब 1 मार्च से आम लोगों को भी कोविड वैक्सीन लगाना शुरू कर दिया है. गवर्नमेंट की गाइडलाइन्स के मुताबिक, फिलहाल वैसे लोगों को कोविड वैक्सीन लगाई जा रही है जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक है. जिसके अतिरिक्त, 45 से अधिक उम्र के वैसे लोग जो किसी ना किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं, उन्हें भी वैक्सीन दी जा रही है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार, इंडिया में 5 मार्च 2021 (शुक्रवार) को शाम 7 बजे तक 1 करोड़ 90 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है. जिसके पूर्व  गुरुवार को भारत में एक दिन में सबसे अधिक कोरोना वैक्सीन लगाई गई. वहीं, बुधवार की तुलना में गुरुवार को कोविड वैक्सीन लगाने का कार्य 40 प्रतिशत अधिक रहा. कोविड वैक्सीन का डोज देने के केस में इंडिया  अब सिर्फ अमेरिका से पीछे है. वहीं, भारत में भी अब वैक्सीन का दूसरा डोज भी देना शुरू कर दिया गया है.  जंहा इस बात का पता चला है कि दुनिया में सबसे कोविड वैक्सीन लगाने के मामले में अमेरिका और भारत के बाद तीसरे नंबर पर यूके है.

अब तक 1.9 करोड़ लोगों को दी गई वैक्सीन: केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, शुक्रवार शाम 7 बजे तक कुल 1,90,40,175 लोगों को वैक्सीन की खुराक भी दें चुके है. जिसमे 68,96,529 हेल्थकेयर वर्कर्स को पहली खुराक दी है. वहीं, 62,94,755 फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहली डोज दी गई है. वहीं, 1,23,191 फ्रंटलाइन वर्कर्स को दूसरी खुराक खुराक दी गई है.

तेजी से चल रहा वैक्सीन लगाने का काम:  मिली जानकारी के अनुसार  60,17,862 लाभार्थी जो 60 वर्ष से अधिक उम्र के हैं उन्हें और 45 वर्ष से अधिक जिन्हें गंभीर बीमारी है. ऐसे 3,13,226 लाभार्थियों को कोविड का पहला टीका लगा है. देशभर में कोरोना वायरस वैक्सीनेशन के 48वें दिन शाम 7 बजे तक कुल 10,34,672 वैक्सीन की खुराक दी गई. जिसमें से 8,25,537 लाभार्थियों को पहली खुराक दी गई है.

शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को मीठी बातों में मारा तना, कहा- नंदीग्राम में आपका स्वागत है, मगर आप हारकर जाएंगी

दिल्ली में कही तेजी से घट रहे कोरोना के मामले तो कही होने वालों की तादाद हुई दुगनी

महंगे पेट्रोल-डीजल पर बोलीं सीतारमण, कहा- 'केंद और राज्य दोनों लेते हैं टैक्स, मिलकर करनी होगी बात'