स्वच्छ सर्वेक्षण अवॉर्ड: नवी मुंबई ने 'सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज' में जीता पहला पुरस्कार

स्वच्छ सर्वेक्षण में स्वच्छ राज्यों की श्रेणी में छत्तीसगढ़ को पहला पायदान मिला है। वहीं, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश को क्रमश: दूसरा और तीसरा स्थान मिला है। इन दोनों ही राज्यों में 100 से ज्यादा शहरी स्थानीय निकाय हैं। मिली जानकारी के तहत 100 से कम शहरी स्थानीय निकाय वाले राज्यों की श्रेणी में झारखंड पहले पायदान पर रहा तो इसके बाद हरियाणा और गोवा रहे हैं। आपको बता दें कि राज्यों को पुरस्कार देते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, 'महात्मा गांधी ने कहा था कि स्वच्छता सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए और उनकी इसी बात को ध्यान में रखते हुए पीएम ने स्वच्छ भारत मिशन को जन आंदोलन के रूप में आगे बढ़ाया है।'

आगे उन्होंने कहा, 'स्वच्छता पुरस्कार विजेता शहरों की अच्छी प्रथाओं व चलन को अपनाया जाना चाहिए। आवास व शहरी विकास मंत्रालय के अनुसार, स्वच्छ सर्वेक्षण में राष्ट्रीय स्तर पर 28 दिनों में 4,320 शहरों में 4.2 करोड़ लोगों की राय ली गई।' आपको बता दें कि एक लाख से कम आबादी वाले शहरों में महाराष्ट्र के विटा शहर को प्रथम पुरस्कार मिला है। ठीक ऐसे ही एक से तीन लाख आबादी वाले छोटे स्वच्छ शहरों में नई दिल्ली नगरपालिका परिषद ने प्रथम स्थान हासिल किया।

वहीं होशंगाबाद और तिरुपति श्रेष्ठ छोटे शहर के रूप में सामने आया है। इसी के साथ, तीन से दस लाख आबादी की श्रेणी में नोएडा देश में 'स्वच्छ मध्यम शहर' के रूप उभरा है। वहीं नवी मुंबई ने 'सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज' में पहला पुरस्कार अपने नाम किया और इसी के साथ ही दस से 40 लाख आबादी वाला 'सबसे स्वच्छ बड़ा शहर' होने का खिताब भी पाया है। वहीं छावनी बोर्ड की श्रेणी में अहमदाबाद सबसे स्वच्छ शहर रहा और इसके बाद मेरठ और दिल्ली ने अपना स्थान बनाया।

'सुरक्षा वापस लेकर कंगना को अस्पताल में भर्ती करवाए', भड़के मनजिंदर सिरसा

दिल्ली वालों के लिए है खास खबर: मेट्रो और DTC बसों में सफर के लिए जारी किए जाएंगे नए नियम

बड़ी खबर! इस मशहूर अभिनेत्री की बिल्डिंग में अचानक लगी आग, जलकर हुई खाक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -