कार्ति चिदंबरम शांति से देख सकते है विदेश में टेनिस, कोर्ट में जमा करने होंगे 10 करोड़ रुपये

कार्ति चिदंबरम शांति से देख सकते है विदेश में टेनिस, कोर्ट में जमा करने होंगे 10 करोड़ रुपये

कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम विदेश में यात्रा कर सकते हैं. इसमें फ्रांस और लंदन शहर भी शामिल है. विदेश में एक टेनिस टूर्नामेंट देखने के लिए उन्हें यह इजाजत मिली है. उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से यह इजाजत मांगी थी.अब कोर्ट ने आदेश दिए हैं कि इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के एवज में उनको शीर्ष अदालत में 10 करोड़ रुपये जमा कराने होंगे. बता दें कि आज यानी शुक्रवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशालय ने एयरसेल-मैक्सिस मामले में अपनी जांच की स्थिति रिपोर्ट दिल्ली की एक अदालत में दायर की है.

SC : लालू यादव के खिलाफ CBI की अर्जी पर आज सुनवाई, क्या मिल पाएगी जमानत

आइएनएक्स मीडिया केस और एयरसेल मैक्सिस केस में कार्ति चिदंबरम और उनके पिता पी.चिदंबरम को आरोपित बनाया गया हैं. फिलहाल वह जमानत पर रिहा है. इस पूरे मामले की छानबीन चल रही है और सुप्रीम कोर्ट ने जांच में सहयोग करने के निर्देश दिए हुए हैं. इससे पहले भी कार्ति ने विदेश जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाली थी. उस दौरान भी कोर्ट में 20 करोड़ रुपये जमा करने के बाद विदेश जाने की इजजात मिली थी.

चिदंबरम ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना, कहा- "सूची से बाहर रहने वालों में सिर्फ मुस्लिम..."

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यह केस फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड से जुड़ा हुआ मामला है. वर्ष 2006 में एयरसेल मैक्सिस डील को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने बतौर वित्त मंत्री मंजूरी दी थी. इन पर आरोप है कि उन्होंने बड़े प्रोजेक्ट पर बिना कैबिनट कमेटी की मंजूरी लिए पास किया. इस दौरान सामने आया कि उन्होंने इस डील के जरिये बेटे कार्ति चिदंबरम की कंपनियों को फायदा पहुंचाया.

सांसद आजम खां के परिवार पर मंडराए संकट के बादल, इस मामले में कोर्ट ने दिया झटका

सिंधिया के संबोधन के समय शिक्षकों ने लगाए मुर्दाबाद के नारे

अरविंद केजरीवाल दिल्ली चुनाव में धमाकेदार जीत के बाद, हारी हुई आठ सीटों पर करेंगे समीक्षा