श्वेता तिवारी पर लगा धोखा-धड़ी का आरोप, पति अभिनव ने कही यह बात

टीवी अदाकारा श्वेता तिवारी इन दिनों अपने शो को लेकर चर्चाओं में है जो बंद होने वाला है। वैसे श्वेता को उन सितारों की लिस्ट में देखा जाता है जो किसी न किसी वजह से सुर्खियों में बने रहते हैं। कभी श्वेता अपनी पर्सनल लाइफ के चलते चर्चाओं में रहती हैं तो कभी अपने शोज के लिए। अब हाल ही में श्वेता तिवारी के एक्स कर्मचारी राजेश पांडे ने उनपर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है। आप जानते ही होंगे राजेश पांडे श्वेता तिवारी के एक्टिंग स्कूल में काम कर चुके हैं। हाल ही में उन्होंने यह आरोप लगाया है कि 'श्वेता तिवारी ने उनकी सैलेरी नहीं दी है।'

वहीं सैलेरी नहीं मिलने की वजह से इस कर्मचारी ने श्वेता तिवारी के घर पर लीगल नोटिज भेजा है। एक मशहूर वेबसाइट से बात करते हुए राजेश पांडे ने कहा, 'मैंने साल 2012 से श्वेता तिवारी के एक्टिंग स्कूल में काम किया है। साल दिसंबर 2018 में श्वेता तिवारी ने मुझे मेरी सैलेरी नहीं दी। इसके अलावा श्वेता तिवारी ने मेरे टीडीएस का भी भुगतान नहीं किया है।' इसी के साथ राजेश पांडे ने यह भी बताया, 'मैंने कई साल तक श्वेता तिवारी के स्कूल के बच्चों को एक्टिंग सिखाई है। श्वेता तिवारी ने मुझे धोखा दिया है। श्वेता तिवारी ने मेरे फोन उठाने बंद कर दिए हैं। वो मुझे पैसे देने से भी मना कर चुकी है। इस वजह से मैं बहुत परेशान हूं। कोरोना के कहर के बीच मेरे पास पैसों की किल्लत हो रही है। मुझे मेरे मकान-मालिक का किराया देना है। वो मुझे बार बार तंग कर रहा है।'

वैसे श्वेता पर यह आरोप लगते देख उनके पति अभिनव कोहली बड़े खुश हैं। उन्होंने भी एक वेबसाइट से बातचीत की और कहा, 'ये बात बिल्कुल सच है कि श्वेता तिवारी ने राजेश पांडे के 50 हजार रुपए नहीं दिए हैं। इस लड़के को काफी समय से जानता हूं। मुझे इस लड़के के लिए बहुत बुरा लग रहा है। वो दो साल से श्वेता तिवारी से अपने पैसे मांग रहा है। श्वेता तिवारी उसके रुपए देने के लिए राजी ही नहीं है। श्वेता तिवारी का कहना है कि फैम पाने के लिए राजेश पांडे ये सब कर रहा है।'

हरियाणा में ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाने के लिए बनी ड्राफ्टिंग कमेटी

चक्रवात निवार प्रभाव: पुडुचेरी में भारी बारिश, कई क्षेत्र हुए जलमग्न

किसानों के समर्थन में उतरे केजरीवाल, कहा- शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना उनका संवैधानिक अधिकार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -