कृष्णा की ग्वालिनों संग शुरू हुई रासलीला

रामानंद सागर की रामायण जिस तरह पूरे विश्व में सबसे लोकप्रिय सीरियल बनी उसी की तर्ज पर अब डीडी नेशनल पर रोजाना रात 9 बजे से 10 बजे कृष्णा का प्रसारण हो रहा है. लेकिन अगर आप से लेटेस्ट एपिसोड छूट गया हो तो चिंता मत कीजिए. आइए हम आपको बताते हैं कि शुक्रवार के एपिसोड में क्या हुआ.आज कान्हा अपने धीरे धीरे कदम बढ़ाते चल रहे हैं गोकुल की गलियों में. वहीं उन्हें देख गोपियां निहार रही हैं.अपने बाल लीला से सभी गोकुल वासियों का मन मोह लिया है कान्हा ने. वहीं नंद बाबा और यशोदा, कान्हा को अपने हाथों से खाना खिला रहे हैं. वहीं सुबह होते ही गोपियां और कान्हा के सखा उनकी प्रतीक्षा कर रहे हैं. कान्हा रोज़ कहीं न कहीं से माखन चोरी कर के अपने सखा को खिलाते हैं. गोकुल के सभी लोग कान्हा की प्रतीक्षा कर रहे हैं कि वो कब आएंगे और उनके घर से माखन चोरी करके जाएंगे. किसी ने अपने घर के द्वार खुले रखे हैं तो कोई अपने हाथ में माखन के कटोरे लिए उनका इंतज़ार कर रहा है .

इसके अलावा कान्हा के बाल लीला देख ने के लिए सभी गांव वाले कान्हा का इंतज़ार कर रहे हैं और देखना चाहते हैं किस का आज भाग्य चमकने वाला है. कान्हा चोरी चोरी चुपके चुपके अपने पांव दबाते हुए एक घर में जाते हैं और वहां पर वो माखन देखते हैं जब उस मटकी पर उनके हाथ नहीं पहुंचते तो वो छज्जे पर चढ़कर मटकी से माखन निकालते हैं. वहीं तभी गांव की सभी औरतें आ जाती हैं और कान्हा को माखन चुराते हुए निहारती रहती हैं. इसके अलावा तभी गांव की ग्वालिन कान्हा को पकड़ लेती है और कहती है कि किसका माखन चुराया है तो कान्हा कहते हैं नहीं मैंने किसी का माखन नहीं चुराया है और तभी उसमें से एक कहती है कि चले यशोदा के पास. तभी कान्हा कहते हैं कि नहीं नहीं मइया से कुछ मत कहना नहीं तो मइया फिर से मुझे ओखल से बांध देंगी. वहीं सभी औरतें कहती हैं नहीं नहीं हम नहीं कहेंगे लेकिन तुम्हें इस माखन चोरी का मोल देना पड़ेगा.कान्हा कहते हैं कि ले लो मेरे कंगन ले लो परन्तु वो गांव की ग्वालिनें कहती हैं कि नहीं नहीं हम कंगन नहीं हम तो चुंबन लेंगे . वहीं कान्हा कहते हैं कि सभी के सामने चुंबन लोगी,तो सभी कहती हैं- हां सब के सामने . कान्हा कहते हैं कि सब के सामने मुझे लाज आती है.

इसके अलावा  सभी कान्हा को पकड़ के चुंबन ले रहे और कान्हा उन के बीच बड़ी ही मंझधार में फंस चुके हैं. तो दूसरी तरफ कान्हा के सखा उनकी प्रतीक्षा कर रहे हैं.उसमें से एक गवालीन कहती है कि सुना है तुम्हें नाच भी आता है तो कान्हा कहते हैं हां आता तो है.वहीं  ये सुन शर्त रख दी कान्हा के सामने कि तुम्हें नृत्य करके दिखाना होगा. अब माखन के लिए सभी के सामने कान्हा नृत्य कर रहे हैं. इसके अलावा नाचते नाचते कान्हा थक जाते हैं और ग्वालिन से छास पिलाने के लिए कहते हैं . छास पीने के बाद ग्वालिन कान्हा से कहती हैं कि अब तुम्हें हमारे साथ रास करना होगा. वहीं अब कान्हा सभी ग्वालिन के साथ रास कर रहे हैं. इसके अक़वा राधा कृष्णा भगवान से कहती हैं केसे आपने इन सभी को मोह जाल में फंसा लिया है, तब कृष्ण भगवान कहते हैं- नहीं मैंने इन्हें मोह जाल मैं नही फंसाया है ये तो इनकी पिछले जन्म की कामना है जिसे मेैं पूरा कर रहा हूं. ये सभी ग्वालिने पिछले जन्म में बड़े बड़े तपस्वी साधु संत थे. इन्होंने घोर तपस्या से हमारे साथ ममता का रिश्ता मांगा था. वहीं इन सभी की कामना थी कि ये मेरे माता बन्ना चाहती थीं. अब इस जन्म में केसे सभी की माता बनू वैसे ही मैं 2 माताओं में बटा हुआ हूं. तो उनकी ममता की प्यास बुझाने के लिए योग माया ने इन सभी को ग्वालिन के रूप में को गोकुल में भेज दिया.

टीवी की इन हसिनायो ने पहली बिकनी, देखिये तस्वीरें

जल्द आ रही है कविता कौशिक की नई फिल्म, ऐसे की है शूटिंग

एकता ने प्रोड्यूसर्स संग मिलकर सीएम उद्धव ठाकरे से की बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -