चीन पर केंद्र सरकार के अलग-अलग बयान से भड़के राहुल गांधी, पूछा यह सवाल

चीन पर केंद्र सरकार के अलग-अलग बयान से भड़के राहुल गांधी, पूछा यह सवाल

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी इन दिनों ट्विटर के माध्यम से अपनी बातें रख रहे हैं। अब हाल ही में उन्होंने चीन मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार को घेरा है। हाल ही में उन्होंने चीन से जारी विवाद पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर रक्षा मंत्री और गृह राज्य मंत्री के अलग-अलग बयान पर टिप्पणी कर दी है। आप देख सकते हैं राहुल ने अपने ट्वीट में कहा है कि, 'पीएम बोले कि कोई सीमा में नहीं घुसा और अब गृह राज्य मंत्री ने कहा कि कोई अतिक्रमण नहीं हुआ।' अपने ट्वीट में राहुल लिखते हैं कि, 'आप क्रोनोलॉजी समझिए : PM बोले कि कोई सीमा में नहीं घुसा, फिर चीन-स्थित बैंक से भारी क़र्ज़ा लिया, फिर रक्षामंत्री ने कहा कि चीन ने देश में अतिक्रमण किया। अब गृह राज्य मंत्री ने कहा कि अतिक्रमण नहीं हुआ। मोदी सरकार भारतीय सेना के साथ है या चीन के साथ? इतना डर किस बात का?'

वहीं बीते दिनों ही लद्दाख के पूर्वी क्षेत्र में चीन की सेना के साथ गतिरोध के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बीते मंगलवार को कहा था कि, 'भारत शांतिपूर्ण तरीके से सीमा मुद्दे के हल के लिए प्रतिबद्ध है लेकिन पड़ोसी देश द्वारा यथास्थिति में एकतरफा ढंग से बदलाव का कोई भी प्रयास अस्वीकार्य होगा।' इसके अलावा उन्होंने यह तक कहा था कि हम पूर्वी लद्दाख में चुनौती का सामना कर रहे हैं। इसी के साथ हम मुद्दे का शांतिपूर्ण ढंग से हल भी निकालना चाहते हैं और हमारे सशस्त्र बल देश की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए डटकर खड़े हैं।

जब रक्षा मंत्री ने यह जवाब दिया तो कांग्रेस के सदस्य भी इस मुद्दे पर अपनी बात रखना चाहते थे लेकिन अध्यक्ष ओम बिरला ने नियमों का उल्लेख करते हुए उन्हें अनुमति नहीं दी। इसके बाद कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी और गौरव गोगोई ने कहा था कि, 'उन्हें भी बोलने का अधिकार है।' उनके यह कहने के बाद आसन से अनुमति नहीं मिली और यह देखते हुए कांग्रेस सदस्यों ने विरोध स्वरूप सदन से वाकआउट कर दिया।

कैसे स्लिम-ट्रिम हुईं पंजाब की कैटरिना कैफ, खुद किया खुलासा

सुशांत के फार्महाउस को लेकर मैनेजर ने किया चौकाने वाला खुलासा

27 साल बाबरी विध्वंस केस में आएगा फैसला, तय हुई यह तारीख