अब मास्क और सोशल डिस्टन्सिंग का ध्यान रखेगा सीसीटीवी, ऐसे करेगा संस्थान को अलर्ट

देशभर में कोरोना संक्रमण की वजह से सुरक्षित शारीरिक दूरी और मास्क का उपयोग करना जरुरी हो गया. वहीं अगर लॉकडाउन के बाद सुरक्षित शारीरिक दूरी और मास्क का उपयोग नहीं करने वालों को पहचान कर सीसीटीवी कैमरे अलर्ट भेज देंगे. जी हां, इस तकनीक पर शहर के एसजीएसआइटीएस संस्थान में शोध किया जा रहा है. कोविड-19 से संबंधित रिसर्च के तहत मशीन लर्निंग और इमेज प्रोसेसिंग तकनीक को कुछ अन्य सॉफ्टवेयर के साथ उपयोग किया जा रहा है.  

बता दें की इससे यह देखा जा रहा है कि मास्क नहीं लगाने वाले और सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन नहीं करने वालों की पहचान कर उन्हें चिन्हित कर लिया जायेगा. इसके बाद ऑफिस या संस्थान के प्रबंधन सिस्टम तक यह संदेश भेज दिया जाए. सीसीटीवी कैमरा व्यक्तियों के बीच की दूरी पता कर लेगा और फेस डिटेक्शन तकनीक का उपयोग कर यह भी पता लगा लेगा कि कितने लोग मास्क का उपयोग कर रहे हैं. जानकारी को डीवीआर की हार्ड डिस्क में सेव करने के साथ सिस्टम प्रबंधन तक मैसेज भी पहुंचा देगा.

जानकारी के लिए बता डिंब की इस तरह काम करती है यह तकनीक. 1.मशीन लर्निंग तकनीक से डेटा का एनालिसिस किया जाता है. 2. व्यक्ति के कार्यस्थल पर मौजूद रहने, मूवमेंट करने सहित अन्य जानकारियां मशीन के माध्यम से प्राप्त हो सकती हैं. 3. इसी तरह इमेज प्रोसेसिंग तकनीक का उपयोग फेस डिटेक्शन के लिए किया जाता है. 4.इसमें संस्थान के व्यक्तियों की सचित्र जानकारी फीड करने के बाद इस तकनीक के माध्यम से अलग-अलग व्यक्तियों से जुड़ी जानकारी सॉफ्टवेयर भेजता है.

कोरोना काल में शादी करना पड़ा महंगा, ऐसे फैला संक्रमण

आखिर क्यों एमपी में नहीं खुल रही शराब की दुकानें ?

मध्य प्रदेश सरकार प्रवासी श्रमिकों को देगी रोजगार, बनेंगे जॉब कार्ड

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -