रश्मि देसाई ने इरफान खान के लिए कही यह बात

भारत देश में एक कहावत है कि जब कोई इंसान दुनिया को अलविदा कहता है तो उसे याद करने वाले लोग उसके बारे में क्या कहते हैं वो उसकी जमा पूंजी होती है, क्योंकि जमीन, जायदाद और पैसा कोई भी अपने साथ लेकर नहीं जा सकता है। इसके साथ ही बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता इरफान खान (Irrfan) उन चुनिंदा लोगों में से एक थे जिन्होंने यह पूंजी खूब कमाई थी। 3 दिन पहले लोगों को अलविदा कहने वाले कलाकार इरफान खान को लोग अभी तक याद कर रहे हैं और उनकी अच्छाई की कहानियां सुना रहे हैं।इसके साथ ही  एक मिडिया रिपोर्टर से बातचीत के दौरान रश्मि देसाई  ने एक दिलचस्प किस्सा शेयर किया है|

आपकी जानकारी के लिए बता दें की जब इरफान खान से वो पहली बार मिलीं तो उन्होंने महसूस ही नहीं होने दिया कि वो इतने बड़े स्टार हैं। इसके साथ ही रश्मि देसाई ने बताया 'इरफान खान ने मदारी नाम की एक फिल्म की थी, जिसको मेरे एक दोस्त ने प्रोड्यूस किया था। जब मैं इस फिल्म के दौरान उनसे मिली तो उन्होंने मुझे महसूस ही नहीं होने दिया कि वो इतने बड़े स्टार हैं और करोड़ों लोग उन्हें चाहते हैं। उनकी सादगी देखकर मैं चौंक गई थी। वहीं उन्होंने मुझे चंद मिनटों में सहज कर दिया। इसके अलावा उन्हें केवल अपने काम से फर्क पड़ता था और वो अपने आपको बेहतर करने में लगे रहते थे।' 

इसके साथ ही चर्चा के दौरान रश्मि देसाई का गला एक बार भर गया और उन्होंने भारी आवाज में बताया, 'मुझे ऐसा लगता है कि उन्होंने अपने काम से दुनिया के सभी कलाकारों को प्रभावित किया था। हम देख सकते हैं कि हॉलीवुड ने उन्हें कितने सम्मान के साथ विदा किया है। वहीं उनका सफर वाकई प्रेरणादायक है। मुझे लगता है कि उन्होंने हम सभी को जिंदगी जीने का सलीका सिखाया है। इसके साथ ही उन्होंने सिनेमाजगत में अपने दम पर अपनी जगह बनाई थी।'वहीं अदाकारा रश्मि देसाई ने अभिनेता  ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) की मृत्यु पर भी विचार रखे और बताया कि उनकी मां बॉलीवुड के चिंटू जी की बहुत बड़ी फैन थीं। इसके अलावा जब ऋषि कपूर की तबियत से जुड़ी जानकारियां आ रही थीं तो रश्मि देसाई की मां लगातार उन्हें टीवी पर देख रही थीं।

अर्जुन ने प्राप्त किया मां दुर्गा का आशीर्वाद

शिखा सिंह ने ऐसे मनाई शादी की सालगिरह

द कपिल शर्मा शो में दोबारा देखने को मिल सकते है इरफान-ऋषि

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -