राजनाथ सिंह ने कश्मीर को बताया आंतरिक मसला, कांग्रेस से कहा- इसका अंतरराष्ट्रीयकरण न करें

राजनाथ सिंह ने कश्मीर को बताया आंतरिक मसला, कांग्रेस से कहा- इसका अंतरराष्ट्रीयकरण न करें

चंडीगढ़: मोदी सरकार में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कश्मीर को देश का आतंरिक मसला बताते हुए कांग्रेस को इसका अंतरराष्ट्रीयकरण न करने की हिदायत दी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने साफ़ किया है कि भाजपा ने धारा 370 को समाप्त करके कश्मीर में मानवाधिकारों का हनन रोका है। कांग्रेस नेता विदेश में जाकर कश्मीर मामले में मानवाधिकार हनन का इल्जाम लगाते हैं, जबकि हकीकत तो यह है कि पहले मानवाधिकारों का हनन होता था, अब नहीं।

उन्होंने आगे कहा कि सिर्फ इतना ही नहीं भाजपा ने ऐसी कोई किसी भी मर्यादा का उल्लंघन नहीं किया है, जिससे देश व लोकतंत्र को नुकसान पहुँचता हो। धारा 370 को ख़त्म करके देश को एकता व अखंडता में बांधने का काम किया गया है। राजनाथ गुरुवार को हरियाणा के भिवानी जिले के गांव खरक में बवानी खेड़ा से भाजपा प्रत्याशी बिशंबर वाल्मीकि व भिवानी से उम्मीदवार घनश्याम सर्राफ के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के दौरान जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

राजनाथ सिंह ने राफेल की पूजा करने एवं उस पर ॐ लिखने पर कांग्रेस को नसीहत देते हुए कहा कि देश की रक्षा के लिए राफेल आवश्यक है। जिसे खरीदने के लिए कांग्रेस 16 वर्ष से निर्णय नहीं ले पाई, उसे मोदी सरकार ने चंद दिनों में करके दिखा दिया। राजनाथ सिंह ने राफेल मिलने को सैन्य ताकत की मजबूती बताते हुए कहा कि अगर हमारे पास पहले राफेल होता तो पुलवामा हमले का बदला लेने के लिए पाकिस्तान में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती।

अभिजीत बनर्जी और सौरव गांगुली के बहाने ममता ने खेला बांगला कार्ड

प्रदूषण पर केंद्र सरकार की रिपोर्ट को सीएम केजरीवाल ने किया ख़ारिज, कहा- तुक्का ना लगाएं ....

मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- फेल हो गया भाजपा का डबल इंजन मॉडल