दाने-दाने को मोहताज़ हुआ किम जोंग का उत्तर कोरिया, सैन्य भंडार से चावल निकालकर कर रहा गुजारा

सियोल: उत्तर कोरिया (North Korea) में खाद्य संकट गहराने के बीच देश ने आपात सैन्य भंडार से आम जनता को खाने के लिए चावल दिए हैं. दक्षिण कोरिया (South Korea) की खुफिया एजेंसी ने मंगलवार को इस संबंध में जानकारी दी है. गर्म हवाओं और सूखे की स्थिति की वजह से देश में खाद्यान्न का संकट उत्पन्न हो गया है. कोरोना महामारी की वजह से भी देश की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है. किन्तु बड़े स्तर पर भुखमरी और अफरातफरी की स्थिति की खबरें नहीं आई हैं.

पर्यवेक्षकों ने उत्तर कोरिया में अगली फसल होने तक संकट और गहराने का अंदेशा जाहिर किया है. सियोल की नेशनल इंटेलिजेंस सर्विस (NIS) ने संसदीय समिति की गोपनीय बैठक में बताया है कि उत्तर कोरिया युद्ध के वक़्त उपयोग किए जाने के लिए रखे गए चावल के भंडार का आम नागरिकों, अन्य मजदूरों और ग्रामीण सरकारी एजेंसियों के लिए उपयोग कर रहा है. मीटिंग में शामिल सांसदों में से एक हा ताए-केउंग (Ha Tae-keung) ने NIS का हवाला देते हुए बताया कि उत्तर कोरिया में गर्म हवाओं के चलने और सूखे की स्थिति की वजह से धान, मक्का और अन्य फसलें नष्ट हो गई हैं और मवेशी मारे गए हैं.

उन्होंने आगे कहा कि NIS ने कहा कि उत्तर कोरिया का नेतृत्व सूखे से लड़ने को राष्ट्रीय अस्तित्व का मामला मानता है और अपने अभियान के संबंध में जन जागरूकता बढ़ाने पर फोकस कर रहा है.

ईरान के सर्वोच्च नेता ने नए ईरानी राष्ट्रपति के रूप में रायसी की पुष्टि की

समुद्र में 302 फीट नीचे मिला 2200 साल पुराने जहाज का मलबा, शराब के प्राचीन जार भी बरामद

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने तरलता को बढ़ावा देने के लिए इतिहास में सबसे बड़े एसडीआर आवंटन को दी मंजूरी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -