पंजाब कांग्रेस के 80 विधायकों में से 62 'सिद्धू' के साथ, अमरिंदर की कुर्सी छीनने की तैयारी तो नहीं ?

Jul 21 2021 03:35 PM
पंजाब कांग्रेस के 80 विधायकों में से 62 'सिद्धू' के साथ, अमरिंदर की कुर्सी छीनने की तैयारी तो नहीं ?

अमृतसर: नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस इकाई का अध्यक्ष तो बना दिया गया है, किन्तु पार्टी के अंदर का टकराव अभी खत्म नहीं हुआ है. सिद्धू और पंजाब के कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच तनातनी अभी भी जारी है. इस बीच आज पंजाब कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू अमृतसर स्थित स्वर्ण मंदिर पहुंचे. यहाँ उन्होंने माथा टेका. उनके साथ बड़ी तादाद में मंत्रियों और विधायकों का जमावड़ा भी दिखा. ये एक तरह का शक्ति प्रदर्शन माना जा रहा है.

 

गौरतलब है कि ताजपोशी के बाद से ही सिद्धू का समर्थकों से मिलना जारी है. आज उन्होंने सभी पार्टी विधायकों को अमृतसर स्थित अपने घर पर नाश्ते के लिए आमंत्रित किया था. अब अधिकतर MLA सिद्धू के साथ दिख रहे हैं. सिद्धू का दावा है कि उन्हें 62 विधायकों का समर्थन प्राप्त है. बता दें कि पंजाब में कांग्रेस के विधायकों की तादाद 80 है. अमरिंदर सिंह की तरफ से मंगलवार को उन खबरों के खारिज कर दिया गया कि सिद्धू ने उनसे मुलाकात के लिए वक़्त मांगा है. अमरिंदर की तरफ से साथ ही कहा गया कि जब तक सिद्धू सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ की गईं अपमानजक टिप्पणियों पर सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांग लेते, सीएम उनसे नहीं मिलेंगे.'

वहीं कांग्रेस MLA परगट सिंह ने कहा है कि सिद्धू को सीएम अमरिंदर से माफी क्यों मांगनी चाहिए? यह कोई सार्वजनिक मुद्दा नहीं है. सीएम ने कई मुद्दों का समाधान नहीं किया है. ऐसे में उन्हें आवाम से माफी भी मांगनी चाहिए.

'जितना नीचे गिरना था आप गिरे, पर बंगाल ने आपको हरा दिया..', केंद्र पर बरसीं ममता बनर्जी

'बहुत ही बेशर्मी के साथ केंद्र ने बोला झूठ..', मोदी सरकार पर सिसोदिया का बड़ा हमला

जानिए कौन हैं शाजिया इल्मी ? जिन्हे भाजपा ने सौंपी बड़ी जिम्मेदारी