सोते समय कभी नहीं खोले मुंह वरना हो सकते है यह नुकसान

हम आपको किसी भी व्यक्ति को पर्याप्त नींद की आवश्यकता होती है। रोजाना 6-7 घंटे की नींद लेना अनिवार्य है। नींद के दौरान, शरीर खुद को रिपेयर करता है और मांसपेशियों को विकसित करता है। नींद की अवधि के अलावा, उचित तरीके से सोना भी अनिवार्य है। गलत मुद्रा शरीर के दर्द और थकान का कारण बन सकती है। इसके अलावा, कई लोग मुंह खोलकर सोते हैं। मुंह खोलकर सोना ना केवल खर्राटों का कारण बनता है बल्कि स्वास्थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव डालता है।

आपकी सेहत के लिए इतना फायदेमंद है नंगे पैर चलना

यह होते है इससे नुकसान

आपको जानकारी के लिए हम आपको बता दें आप खुले मुंह सोते हैं तो आपके फेफड़ों में ऑक्सीजन का प्रवाह कम हो जाता है। फेफड़ों में कम ऑक्सीजन थकान और कमजोरी का कारण बनता है। यदि आप खुले मुंह सोते हैं तो आप पूरे दिन थका हुआ महसूस करेंगे। वही खुले मुंह सोने से होंठ शुष्क और फट जाते हैं। जब आप खुले मुंह सोते हैं तो आपके मुंह में द्रव सूख जाता है और आपके होंठ सूख जाते हैं और फट भी जाते हैं। इसके अलावा, मुंह के तरल पदार्थ को सूखने से खाने को निगलने में परेशानी होती है।

अत्यधिक मात्रा में पालक के सेवन से शरीर पर पड़ सकते है बुरे प्रभाव

और भी है ऐसे नुकसान

जानकारी के लिए आपको बता दें बदबूदार सांस को हैलिटोसिस भी कहा जाता है और यह लार में कमी के कारण होता है। मुंह से हवा का मार्ग मुंह की गंदगी को साफ करने से रोकता है। इसी के साथ मुंह खोलकर सोना आपके दांतों को हानि पहुंचाता है। खुले मुंह सोने से हवा का प्रवाह लार को हटा देता है। कम लार बिल्डअप प्लाक को रोकता है जो मुंह में अवांछित बैक्टीरिया की संख्या को बढ़ाता है। इससे दांत क्षतिग्रस्त हो जाता है।

अब नहीं झेलनी होगी कम कद से होने वाली दिक्कत, ये उपाय करेंगे काम

माइक्रोवेव में ना रखें ये बर्तन, खाना हो जायेगा खतरनाक

तबियत बिगड़ने के बाद बहुत कमजोर हो गए सोनू निगम, वीलचेयर पर बैठे हुए आए नजर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -