भारत के प्रशासन पर ऊँगली उठाता दुबई के शासक का ट्वीट

Aug 28 2018 12:13 PM
भारत के प्रशासन पर ऊँगली उठाता दुबई के शासक का ट्वीट

दुबई: केरल में आई बाढ़ के बाद देश के कोने-कोने से बाढ़ पीड़ितों के लिए मदद आ रही है, देश के कई राज्यों के बाद, भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान ने भी मदद की पेशकश की थी. इसी बीच भारत सरकार द्वारा संयुक्त अरब अमीरात की 700 करोड़ की वित्तीय सहायता को ठुकराने पर काफी बवाल मचा था, जिसके बाद दुबई के शासक के ट्वीट ने इस कंट्रोवर्सी को दुगना कर दिया था, अपने ट्वीट में दुबई के शासक मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने लिखा था कि एक आदर्श शासक कैसा होना चाहिए? 

अफगानिस्तान में सेना ने हवाई हमले से मार गिराए 50 आतंकी

मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने लिखा था कि दुनिया में शासक  दो प्रकार के होते हैं. पहले प्रकार के वो जो अच्छाई की कुंजी होते हैं, वे लोगों की सेवा करना पसंद करते हैं. उन्हें मानव जीवन को सुविधाजनक बनाने में खुशी मिलती है और उनका मूल्य उनके द्वारा प्रदान किए जाने वाले कार्यों में होता है. उनकी वास्तिवक उपलब्धि लोगों के जीवन को बदलना और उनके लिए बंद दरवाजों को खोलना है. वे हमेशा समाधान प्रदान करते हैं और हमेशा लोगों के लाभ के बारे में सोचते हैं.'

विदेशी हवाई हमलों से दहला अफ़ग़ानिस्तान

अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा था कि 'दूसरे प्रकार के शासक वे हैं जो अच्छी चीजों को रोक देते हैं और लोगों के जीवन को मुश्किल बना देते हैं. उन्हें लोगों को अपने दरवाजे पर देखकर खुशी मिलती है, कोई भी सरकार तभी सफल होगी जब पहले प्रकार के शासक ज्यादा हों और दूसरे प्रकार के कम.' सोशल मीडिया पर दुबई के सुल्तान के इन ट्वीट्स को काफी पसंद किया जा रहा है, साथ ही कई सारे ट्वीटर उपभोक्ताओं का ये मानना है कि यूएई के सुल्तान अपने ट्वीट के जरिए मोदी सरकार को निशाना बना रहे हैं. आपको बता दें कि जिस 700  करोड़ की मदद के पीछे सारा बवाल मचा हुआ है, उसे लेकर यूएई की तरफ से कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है, केरल सरकार कने भी इस बात पर सहमति व्यक्त की है. 

खबरें और भी:-

केरल बाढ़: मुख्यमंत्री ने किया दुनिया भर के मलयालियों का आह्वान, कहा एक महीने का वेतन पीड़ितों के लिए दें

नवाज़ शरीफ को जेल से मिली राहत

ट्रंप पर लगा 'शांति विरोधी' होने का आरोप, यह है वजह

?