मिजोरम के राज्यपाल के. राजशेखरन ने दिया इस्तीफा, लड़ सकते है चुनाव

आइजवाल : प्रदेश के राज्यपाल के. राजशेखरन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। के. राजशेखरन को मई 2018 में मिजोरम का राज्यपाल बनाया गया था। असम के राज्यपाल जगदीश मुखी मिजोरम के राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार संभालेंगे। के. राजशेखरन के इस्तीफे के बाद कहा जा रहा है कि वह कांग्रेस नेता शशि थरूर के खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं।

अगर हमारी सरकार बनी तो महिलाओं को मिलेगी मुफ्त शिक्षा - राहुल गाँधी

थरूर के खिलाफ लड़ सकते है चुनाव  

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी की केरल इकाई राजशेखरन को तिरुवनंतपुरम से शशि थरूर के खिलाफ उम्मीदवार बनाना चाहती है। इसके लिए भाजपा की केरल इकाई ने पार्टी लीडरशिप से बातचीत भी की थी। इस बातचीत के बाद ही राजशेखरन का इस्तीफा आया । ऐसे में कहा जा रहा है कि पार्टी उन्हें कांग्रेस नेता और सांसद शशि थरूर के खिलाफ तिरुवनंतपुरम सीट से लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार बना सकती है। 

उत्तर प्रदेश अध्यक्ष को लेकर कांग्रेस में दो फाड़, खतरे में राज बब्बर का पद

रिश्तों में कोई कड़वाहट नहीं

जानकारी के अनुसार शशि थरूर का कहना है कि मिजोरम के पूर्व राज्यपाल के. राजशेखरन और उनके बीच रिश्तों में कोई कड़वाहट नहीं है। उन्होंने राजशेखरन को अच्छा इंसान बताया है। थरूर का कहना है कि तिरुवंनतपुर लोकसभा सीट से अगर वह मेरे खिलाफ लड़ते हैं तो यह व्यक्तिगत लड़ाई नहीं बल्कि दो पार्टियों के बीच की लड़ाई है। 

अयोध्या मामले पर शिवसेना की मांग, गैर विवादित जमीन पर शुरू हो मंदिर निर्माण

सार्वजनिक स्थलों की सूरत ना बिगाड़े राजनितिक दल - सुप्रीम कोर्ट

राम मंदिर पर बोले गिरिराज सिंह, कहा कांग्रेस है सब फसाद की जड़

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -