अपना प्रचार करते-करते BJP का प्रचार कर गईं मायावती

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) मुखिया मायावती ने उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत लगानी शुरू कर दी है। जी दरअसल हाल ही में उन्होंने कहा, 'केंद्र राज्य की जो भी योजनाएं चल रही हैं उन्हें बदले की भावना से रोका नहीं जाएगा।' जी दरअसल बीते कल बसपा के संस्थापक कांशीराम की पुण्य तिथि पर लखनऊ के कांशीराम स्मारक स्थल में आयोजित श्रद्धांजलि कार्यक्रम में बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती संबोधित कर रही थीं। इस दौरान उन्होंने कहा, 'हमारी सरकार बनने पर इस बार सबसे ज्यादा जोर यहां के गरीब बेरोजगार नौजवानों को रोटी-रोजी के साधन उपलब्ध कराने पर होगा, इस बार यही हमारी पार्टी का मुख्य चुनावी मुद्दा भी होगा।'

आगे उन्होंने यह भी कहा, 'कोरोना काल में दोनों ने मजदूरों को पलायन करने पर मजबूर कर दिया। केजरीवाल भी कम नहीं निकले उन्होंने मजदूरों के लिए कोई व्यवस्था नहीं की। अब बिजली पानी फ्री देने की बात कहकर यूपी में पांव जमाने की कोशिश में है यह बात बिल्कुल झूठी है। नया घोषणा पत्र जारी नहीं कर रहे हैं बल्कि चल रहे कामों को पूरा कराएंगे।' वहीं मायावती ने यह एलान किया कि, 'हम कोई घोषणा पत्र जारी नहीं कर रहे हैं लेकिन हमारी सरकार बनी तो हम अयोध्या, वाराणसी, मथुरा में बसपा की तर्ज पर भाजपा द्वारा शुरू कराए गए विकास कार्यों को रोकेंगे नहीं बल्कि पूरा करेंगे। चाहे सड़क निर्माण हो अथवा पुल निर्माण पहले पुराने कामों को ठीक किया जाएगा।' उनके इस बयान के चलते अब लोगों का यह कहना है कि वह BJP का प्रचार कर रहीं हैं और अगर वह BJP के कामों को पूरा करेंगी तो लोग उन्हें वोट क्यों दें?

वहीं मायावती ने यह भी कहा, 'कुछ छोटी पार्टियां अकेले या गठबंधन में रहकर केवल पर्दे के पीछे से सत्ताधारी दल को लाभ पहुंचाने की जुगत में हैं । उनसे सावधान रहना है साथ ही एक पार्टी ऐसी है जो स्वार्थी टिकटार्थियों को शामिल कर अपना कुनबा बढ़ा रही हैं।' आगे उन्होंने यह भी कहा, 'कुछ लोग बसपा को कमजोर दिखाने की कोशिश कर रहे हैं पर आज इस भीड़ को देखकर उन सभी को यह समझ जाना चाहिए कि बसपा में कितनी ताकत है। सर्वे के चक्कर में नहीं पड़ना है। बंगाल में जो सर्वे आया था उसके उलट चुनाव परिणाम आया ममता बनर्जी की सरकार बन गई।'

'किसानों के आंदोलन को हाईजैक करने की कोशिश में है कांग्रेस और अकाली दल': BJP राष्ट्रीय महासचिव

लखीमपुर हिंसा: आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी से अपना दल खुश

लखीमपुर: मंत्री का बेटा गिरफ्तार, आज होंगे कोर्ट में पेश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -