मान्यता दत्त ने बताया बुरे दौर में किस परेशानी से गुज़र रहे थे संजय दत्त

बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त की जिंदगी एक लंबे अरसे तक मुश्किलों में फंसी थी. ये सब आप उनकी बायोपिक में देख ही चुके हैं. संजय दत्त काफी मुश्किलों से इन सब से बाहर आये हैं और अब अपने परिवार के साथ रहते हैं. मां का निधन, नशे की लत, असफल शादी, टाडा के चार्ज, इन सब में उलझे हुए संजय दत्त ने एक अरसा गुजार दिया. इस बारे में अब संजय दत्त का कहना है कि वह सुकून में हैं और जो काम करना चाहते हैं वह कर रहे हैं. संजय दत्त की पत्नी मान्यता ने भी इस बारे में बात की. उन्होंने संजय की कई बातों का खुलासा किया है. 

दरअसल, एक इंटरव्यू में मान्यता ने संजय दत्त के बुरे दौर के बारे में बात की. उन्होंने बताया कि कैसे उस दौरान संजय दत्त मानसिक तौर पर परेशान रहे. इस बारे में मान्यता कहती हैं कि पहले वह इस बात से परेशान रहते थे क्योंकि कोर्ट ने टाडा से मुक्त किया तो यह देखने के लिए उनके पिता जिंदा नहीं थे. इस बात का उन्हें बेहद दुःख था. इस आरोप की वजह से ही उनके परिवार की छवि खराब की थी और उनके पिता को सालों तक परेशान किया था और इसी परेशानी में उनके पिता दुनिया छोड़ गए. 

वहीं संजय दत्त ने कहा, 'काले बादल हट गए हैं. मैं आखिरकार सुकून में हूं. चिंटू सर (ऋषि कपूर) की तरह मैं भी फिल्म सेट पर ही सबसे खुश रहता हूं. मैं वह काम कर सकता हूं जो करना चाहता हूं.' बता दें कि 1993 मुंबई बम धमाकों के बाद संजय दत्त पर टेररिस्ट ऐंड डिसरप्टिव ऐक्टिविटी (TADA) के चार्ज लगाए गए थे. 2007 में उन्हें इनसे मुक्त कर दिया गया था. हालांकि, गैरकानूनी रूप से हथियार रखने के लिए उन्हें 6 साल जेल की सजा सुनाई गई थी. लेकिन अब वह बेहद सुकून में हैं.

इस टीवी एक्ट्रेस को एक के बाद एक मनीषा कोइराला ने मारे पांच थप्पड़!

अपनी सौतेली माँ मान्यता दत्त के साड़ी वाले फोटो पर त्रिशाला ने किया ऐसा कमेंट

प्रस्थानम के पहले गाने 'दिल दरिया' का टीज़र रिलीज़

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -