चुनाव में ख़राब प्रदर्शन के बाद एक्शन मोड में ममता, बंगाल में बदलाव का दौर शुरू

चुनाव में ख़राब प्रदर्शन के बाद एक्शन मोड में ममता, बंगाल में बदलाव का दौर शुरू

कोलकाता: 2019 लोकसभा चुनाव संपन्न हो जाने के बाद कई राज्य सरकारें प्रशासनिक स्तर पर परिवर्तन कर रही हैं. इन फैसलों को चुनावी परिणामों से भी जोड़कर देखा जा रहा है. इसी क्रम में पश्चिम बंगाल की टीएमसी सरकार ने प्रशासनिक फेरबदल किया है. इस फेरबदल में अलापन बंधोपाध्याय को प्रदेश का नया गृह सचिव नियुक्ति किया गया है.

अलापन बंधोपाध्याय, अत्री भट्टाचार्य की जगह लेंगे. वहीं, ममता बनर्जी ने सरकार ने इसके साथ ही 10 जिलाधिकारियों समेत कई आईएएस और आईपीएस अधिकारियों के ट्रांसफर का भी आदेश दिया है. सरकार की तरफ से जारी की गई अधिसूचना में कहा गया है कि बंधोपाध्याय के पास एमएसएमई विभाग का प्रभार दिया गया था. इसके अलावा उनके कंधो पर उद्योग और वाणिज्य विभाग की अतिरिक्त जिम्मेदारी भी थी. इसमें बताया गया है कि उनके पास इन विभागों का भी अतिरिक्त प्रभार भी रहेगा. भट्टाचार्य का तबादला चुनाव आयोग ने किया था और प्रदेश के मुख्य सचिव एम डे गृह विभाग भी देख रहे थे.

हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में सत्तारूढ़ टीएमसी को भारी नुकसान हुआ है. पार्टी ने 42 में से 22 सीटों पर जीत हासिल की है, जबकि भाजपा ने बड़ी छलांग लगाते हुए 18 लोकसभा सीटों पर अपना परचम लहराया है. दो सीटें कांग्रेस को मिली हैं. आपको बता दें कि 2014 में टीएमसी ने 42 में से 34 सीटें अपने पाले में की थीं, जो 2019 के चुनाव में घटकर 22 रह गई है. टीएमसी के इस प्रदर्शन के बाद ममता बनर्जी सरकार काफी परिवर्तन कर रही है.

अशोक गहलोत से मिलने के लिए राहुल गाँधी ने किया इंकार, सीएम की कुर्सी पर लटकी तलवार

शपथ ग्रहण में शामिल होने के लिए पीएम मोदी को भेजा पटनायक ने आमंत्रण

जापान के कावासाकी में युवक ने कर दिया भीड़ पर चाकुओं से हमला, कई घायल