इस राज्य में तेजी से किए जा रहे टेस्ट, काबू में आ सकता है कोरोना

लॉकडाउन और कोरोना संकट बीच कर्नाटक में कोरोना वायरस (COVID-19) टेस्टिंग 16 दिन में डबल हो गई है. राज्य के स्वास्थ शिक्षा मंत्री डॉ के सुधाकर ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि हमने 8 मई तक एक लाख टेस्ट कर लिए थे. इसके बाद महज 16 दिन में यह आंकड़ा डबल हो गया.

गोवा : 11 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, इतनी हुई संक्रमण की संख्या

अपने बयान में सुधाकर ने ट्वीट करके कहा, ' आज सुबह तक राज्य में 57 कोरोना वायर टेस्टिंग लैब में दो लाख तीन हजार टेस्ट हो गए हैं. मैं इस उपलब्धि पर डॉक्टरों और लैब टेकनीशियनों को बधाई देता हूं.' 

दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या 13 हज़ार के पार, 261 लोग गँवा चुके हैं जान
 
आपकी जानकारी के लिए बता दे कि आज कर्नाटक में कोरोना वायरस को रोकने के लिए पूर्ण रूप से लॉकडाउन लागू किया गया है. राज्य सरकार ने वायरस को रोकने के लिए रविवार को राज्य में पूर्ण लॉकडाउन का निर्णय लिया और कहा कि 25 मई को सुबह 7 बजे तक सभी दुकानें बंद रहेंगी. शिवाजीनगर, हुबली, गडग, शिमोगा और कलबुर्गी सहित अन्य जगहों पर कम भीड़ देखी गई. कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम बस टर्मिनल सहित सभी वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहे. इस बीच, इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों ने भी इस कदम का समर्थन किया और अपने-अपने घर पर बने रहे. वही, घरेलू हवाई यात्रा को फिर से शुरू करने से दो दिन पहले, कर्नाटक सरकार ने लॉकडाउन के बीच से संक्रमण के अधिक मामलों वाले राज्यों के लोगों के लिए क्वारंटाइन की नई गाइडलाइन जारी की है. इसके अनुसार महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश आने वाले लोगों को इंस्टिशनल लॉकडाउन में रहना होगा. नए मानदंडों में यह भी कहा गया है कि अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों के लिए 14 दिनों का होम क्वरंटाइन में रहना आवश्यक होगा.

बिहार में मिले कोरोना के 83 नए मामले, 2500 के करीब पहुंची संक्रमितों की संख्या

कोरोना से जंग के लिए 'नाथ' परिवार ने खोला खज़ाना, दिए 50 लाख रुपए

सीएम योगी का बड़ा आदेश- यूपी में कल से खुलेंगे सभी सरकारी दफ़्तर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -