+

मनी लॉन्डरिंग मामला: मरियम नवाज़ के खिलाफ फिर शुरू हुई जांच, नवाज़ भी हैं आरोपी

मनी लॉन्डरिंग मामला: मरियम नवाज़ के खिलाफ फिर शुरू हुई जांच, नवाज़ भी हैं आरोपी

लाहौर: पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ की पुत्री और पीएमएल-एन की नेता मरियम नवाज के खिलाफ एनएबी ने फिर जांच आरंभ कर दी है. पाकिस्तान की भ्रष्टाचार रोधी एजेंसी द्वारा अवेनफील्ड भ्रष्टाचार पकरण में जाली ट्रस्ट डीड का इस्तेमाल करने को लेकर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग इस्लामाबाद जवाबदेही न्यायालय द्वारा ठुकराए जाने के बाद यह जांच आरंभ की गई है.

नेशनल अकाउंटैबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) ने मेसर्स चौधरी शुगर मिल्स लिमिटेड के स्वामित्व को लेकर मरियम नवाज, उनके पिता नवाज़ शरीफ, पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के अध्यक्ष शहबाज शरीफ, उनके चचेरे भाई हमजा शहबाज और युसुफ अब्बास व अन्य के विरुद्ध पड़ताल शुरू कर दी है. अखबार डॉन की शनिवार की रिपोर्ट के मुताबिक, एनएबी को कथित तौर शरीफ परिवार द्वारा लाखों रुपये (पाकिस्तानी मुद्रा) के टेलीग्राफिक हस्तांतरण का खुलासा हुआ है, जिसके अंतिम लाभार्थी मरियम नवाज और चौधरी शुगर मिल्स के मालिक रहे हैं.

सूत्रों के हवाले से अखबार ने बताया है कि, "ब्यूरो मरियम को बुलाने कि जगह उनको एक प्रश्नावली भेज सकता है." सूत्रों के मुताबिक, आमदनी से अधिक धन व मनी लॉन्डरिंग के मामले में शहबाज शरीफ और उनके बेटों के खिलाफ जांच के दौरान चौधरी शुगर मिल्स के मालिकों के खिलाफ धनशोधन के साक्ष्य मिले हैं. 

टेकऑफ के लिए बिलकुल तैयार था विमान, तभी पंखे पर चढ़ गया एक नौजवान

ईरान ने पकड़ा ब्रिटेन का ऑइल टैंकर, 18 भारतीय लोग भी फंसे

पाक के इतिहास में कभी सुरक्षित नहीं रहे पूर्व प्रधानमंत्री, अब भी 1 पूर्व राष्ट्रपति व 2 पूर्व पीएम जेल में