पत्नी को लेने गया था मायके, नहीं मानी तो दे दी जान

गिरिडीह: अपनी पत्नी को मायके से वापिस लेने गए पति ने अपने ससुराल में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. वजह ये थी कि उसकी पत्नी ने उसके साथ घर चलने से इंकार कर दिया था. मामला जरुवाडीह पंचायत के विष्णुडीह गांव का है, सूचना पर बेंगाबाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंचे और आवश्यक जांच पड़ताल के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है .

स्थानीय निवासियों ने बताया है कि  देवघर के मधुपुर के बाराटांड़ निवासी लेखो महतो के पुत्र राजू यादव की शादी लगभग 12 वर्ष पूर्व जरुआडीह पंचायत के विष्णुडीह गांव निवासी चेतलाल यादव की पुत्री अनीता के साथ हुई थी, लेकिन पिछले कुछ समय से किसी अनबन के कारण अनीता अपने मायके में रह रही थी. इसी बीच शुक्रवार रात को राजू यादव, अनीता के घर गया और उसे अपने साथ घर चलने के लिए कहने लगा, लेकिन जब अनीता नहीं मानी तो शराब के नशे में राजू ने सबके सो जाने के बाद फांसी लगा ली.

जब लोगों की नींद खुली तो उन्हें घर से गायब पाकर खोजबीन शुरू की, जब उन्होंने घर से बाहर निकल के देखा तो  घर से लगभग 500 मीटर की दूरी पर स्थित एक पलास के पेड़ पर राजू यादव की लाश लटक रही थी. खबर पाकर घटनास्थल पर लोगों की भीड़ लग गई, खबर पाकर मृतक के कई परिजन भी विष्णुडीह पहुंचे. थाना प्रभारी ने बताया कि मामले की जांच पड़ताल की जा रही है. 

फर्जी ट्रेड लइसेंस बनाने वाले धराए

जेनेरिक दवाइयां ही लिखे डॉक्टर- स्वास्थ्य मंत्री

नक्सल मुक्त हुआ पूर्वी सिंघभूम जिला

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -