होली का रंग आँखों में चला जाये तो ऐसे पाएं जलन से राहत

होली का रंग आँखों में चला जाये तो ऐसे पाएं जलन से राहत

होली आने वाली है और इससे दूर कोई भी नहीं रहना चाहता. ये रंगीन त्यौहार हर किसी को पसंद आता है लेकिन इसके रंग आपके लिए मुसीबत भी बन सकते हैं, इस बात की जानकारी आपको भी होगी ही. ये रंग आपकी स्किन, बाल और आँखों के लिए भी खतरनाक होते हैं. लेकिन ऐसे ही अगर आप अपनी आँखों को नुकसान से बचाना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि आँखों को किस तरह से बचाएँ. घरेलु तरीके आपकी मदद कर सकते हैं.

* नमक और पानी
आंखों में पानी आए, जलन हो, दर्द या सूजन हो, नमक-पानी का घोल हर रोग का इलाज है. नमक में कई प्राकृतिक तत्व होते हैं जो दर्द और सूजन को खत्म करते हैं. नमक में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं. इसके लिए गरम पानी में आधा चम्मच नमक मिला लें और इसमें किसी साफ कपड़े को भिगाकर आंखों की सिकाई करें. सूजन में नमक-पानी की सिकाई से काफी आराम मिलता है.

* कैस्टर ऑयल 
आंखों से जुड़ी ज्यादातर परेशानियों को आप कैस्टर ऑयल के इस्तेमाल से दूर कर सकते हैं. रूई के एक टुकड़े को कैस्टर ऑयल में डुबोकर हल्के हाथों से निचोड़ लें. इसके बाद इन्हें आंखों पर रखकर लेट जाएं. आप चाहें तो उंगलियों में कैस्टर ऑयल लगाकर हल्के हाथों से मसाज भी कर सकते हैं.

* टी बैग 
चाय की पत्तियों में ऐसे कई तत्व होते हैं जो आंखों को ठंडा रखते हैं और बैक्टीरिया को नष्ट करते हैं. कैमोलाइन, पिपरमिंट और स्पेयरमिंट आदि आंखों की जलन को कम करते हैं. इसके लिए टी बैग को कुछ देर गर्म पानी में रखें या इस्तेमाल किये गए टी बैग को ही ले लें. इस हल्के गर्म टी बैग को आंखों पर रखें और आंखों को बंद कर लें. इससे आंखों की जलन कम होगी, आंखों से पानी नहीं निकलेगा और आंखों के आसपास का कालापन दूर होगा.

* खीरे का उपाय
आंखों की थकान और जलन दूर करने के लिए खीरे का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद है. ये आंखों की जलन दूर करके उन्हें ठंडक देने का काम करता है. खीरे के पतले-पतले टुकड़े काटकर उन्हें फ्रिज में रख दें. कुछ देर के लिए खीरे के इन टुकड़ों को आंखों पर रखकर लेट जाएं. जलन और थकान दूर करने का ये बेहद कारगर और आसान उपाय है.

होलाष्टक के दिन भूलकर भी ना खाए किसी की दी गई ऐसी चीज़, रखे इन बातों का भी ध्यान

Video: राखी ने खेली अश्लील होली, ट्रोलर्स ने कहा- 'हवस की पुजारन...'

आमलकी एकादशी के दिन भगवान शिव को रंग लगाकर होती है होली की शुरुआत