हैकर्स आपको बना सकते है बहरा, जानिए कैसे

हैकर्स आपको बना सकते है बहरा, जानिए कैसे

किसी भी डिवाइस को हैक करना हैकर्स के लिए आसान होता जा रहा है. एक ताजा साइबर सिक्यॉरिटी रिसर्च की मानें तो अब आपके घरों में मौजूद स्पीकर्स को भी हैक किया जा सकता है. इतना ही नहीं हैकर इसे हैक कर एक साइबर वेपन (हथियार) के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं. रिसर्च में कहा गया है कि हैकर घर या ऑफिस में मौजूद स्पीकर को हाइजैक कर उसकी आवाज को इस हद तक बढ़ा सकते हैं कि आसपास के लोगों की सुनने की शक्ति पर गहरा असर पड़ सकता है. आइए जानते है पूरी रिपोर्ट 

भारत में Realme के ये अपकमिंग स्मार्टफ़ोन 20 अगस्त को होंगे लॉन्च, मिलेगा 64MP का कैमरा

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यूके के एक सिक्यॉरिटी रिसर्चर मैट विक्सी ने इस मैलवेयर के रियल वर्ल्ड पर पड़ने वाले असर की जांच की. उन्होंने अपनी जांच में पाया कि तेज आवाज पैदा करने के लिए स्पीकर्स का हैक होना काफी खतरनाक हो सकता है और यह लोगों को बहरा तक बना सकता है. उन्होंने ने बताया कि ऐसे अटैक के जरिए हैकर्स बड़े संस्थानों को निशाना बना सकते हैं जहां बड़ी संख्या में लोग मौजूद होते हैं. तैयार किए गए कस्टमाइज वायरस के स्पीकर हैकिंग को जांचने के बाद विक्सी ने इसे दूसरे स्पीकर वाले डिवाइस जैसे लैपटॉप, मोबाइल फोन, हेडफोन इत्यादि पर भी टेस्ट किया. इस एक्सपेरिमेंट को को करने पर उन्होंने पाया कि यह मैलवेयर आसानी से किसी भी डिवाइस के कंट्रोल को हैक कर वॉल्यूम को तेज या धीमी फ्रीक्वेंसी वाले साउंड को पैदा कर सकता है.

Jio GigaFibre के इस प्लान में 4K या HD टीवी के साथ 4K सेट-टॉप बॉक्स फ्री दे रही है

विक्सी ने जोर देते हुए अपने इस एक्सपेरिमेंट के बाद कहा कि ऐसे अटैक से किसी व्यक्ति की एकाग्रता को भंग करने के साथ ही सुनने की शक्ति को भी गहरा आघात पहुंचा सकते हैं. ऐसे अटैक में टिनिटस और मानसिक अस्थिरता की भी संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं. वही विक्सी ने आगे बताया कि हैकर अगर लगातार ऐसे अटैक करता है तो लोगों की जान भी जा सकती है. इसमें चिंता की सबसे बड़ी वजह यह है कि इन डिवाइसेज में ऐसे अटैक्स को पहचानने और रोकने की कोई व्यवस्था नहीं दी गई है.हालांकि, मौजूदा स्पीकर्स और डिवाइसेज इस अटैक को रोकने में असमर्थ हैं, लेकिन विक्सी ने डिवाइस मैन्युफैक्चरर्स से इसके लिए एक डिफेंस मेकनिजम बनाने के लिए बातचीत शुरू कर दी है. विक्सी चाहते हैं कि डिवेलपर्स ऐसी तकनीक तैयार करें जिससे इन अटैक्स से पूरी तरह बचा जा सके.

LG G8X स्मार्टफोन IFA 2019 में होगा लॉन्च, ये है अन्य खासियत

Reliance Jio के इस लेटेस्ट पोस्टपेड प्लान में मिलेगा अनलिमिटेड फ्री-कॉलिंग

इस सेल में Xiaomi के स्मार्टफोन्स पर मिल रहा 7500 रु का बम्पर डिस्काउंट