पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत संदेहास्पद, AIIMS ने जारी नहीं किया मेडिकल बुलेटिन

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की हालत संदेहास्पद, AIIMS ने जारी नहीं किया मेडिकल बुलेटिन

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी अपनी बेटी प्रतिभा आडवाणी के साथ सोमवार को पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की तबियत का हालचाल जानने के लिए एम्स पहुंचे। आडवाणी के अलावा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत, उत्तर प्रदेश की गवर्नर आनंदी बेन पटेल और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी समेत कई नेता पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का हाल जानने के लिए एम्स पहुंचे।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के AIIMS में भर्ती पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अरुण जेटली की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है। फिलहाल उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है। एम्स के सूत्रों के अनुसार, पूर्व वित्त मंत्री को फिलहाल कार्डियो-न्यूरो सेंटर में एक्सट्रॉकोर्पोरियल मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेशन (ECMO) और इंट्रा-एओर्टिक बैलून पंप (IABP) सपॉर्ट पर रखा गया है।

आपको बता दें कि ECMO पर रोगी को तब रखा जाता है, जब दिल, फेफड़े सही से काम नहीं करते हैं और वेंटिलेटर का भी लाभ नहीं होता है। ECMO के माध्यम से मरीज के शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाया जाता है। अरुण जेटली का गत वर्ष मई में गुर्दे का प्रत्यारोपण हुआ था।  हालांकि, अरुण जेटली की तबियत को लेकर अभी तक एम्स द्वारा मेडिकल बुलेटिन जारी नहीं किया गया है ऐसे में स्थिति संदेहास्पद बनी हुई है।

AAP विधायक मनोज कुमार को 7 दिन की सजा, महिला से मारपीट मामले में पाए गए दोषी

उत्तराखंड बाढ़ को लेकर बोलते सीएम रावत, कहा- राज्य में घर बनाने को लेकर रिसर्च की जरुरत

पाक अधिकृत कश्मीर पर गिरिराज सिंह का नया नारा, कहा- अबकी बार, उस पार