पहली बार MP के CM ने 'महाकाल की नगरी' उज्जैन में गुजारी रात, तोड़ा सालों पुराना मिथक

पहली बार MP के CM ने 'महाकाल की नगरी' उज्जैन में गुजारी रात, तोड़ा सालों पुराना मिथक
Share:

उज्जैन: मध्य प्रदेश के सीएम डा. मोहन यादव ने उज्जैन में अपने निवास पर रात्रि विश्राम कर एक मिथक तोड़ दिया है। कहा जाता है कि कोई भी मुख्यमंत्री उज्जैन में रात्रि विश्राम नहीं करता है, ऐसा इसलिए कि उज्जैन के राजा बाबा महाकाल हैं। मुख्यमंत्री यादव का कहना है कि मैं उज्जैन का बेटा हूं तथा बाबा महाकाल मेरे पिता हैं। मैं महाकाल के मुख्य सेवक के रूप में काम कर रहा हूं, ना कि मुख्यमंत्री के रूप में।

सीएम डा. मोहन यादव रविवार प्रातः उज्जैन के विकास के एजेंड को लेकर विक्रमादित्य प्रशासनिक संकुल भवन में बैठक ली। तैयारियों को लेकर कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने जिले में स्वीकृत, प्रचलित तथा प्रस्तावित योजनाओं का फोल्डर तैयार करवाया था। ध्यान हो कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के बनने के बाद पहली बार डा. मोहन यादव ने उज्जैन में कोई प्रशासनिक स्तर पर की बैठक की। उज्जैन, उनका गृह नगर है तथा वे यहां के इतिहास, भूगोल और लोगों की आवश्यकता से भली-भांति वाकिफ हैं। पिछले 10 सालों में अधिकांश योजनाएं उन्हीं के प्रयासों से बनीं। अधिकांश धरातल पर उतरी और कुछ खास वजहों से लंबित रह गईं और बंद भी पड़ गईं। अब चूंकि वे ही राज्य के मुखियां हैं, ऐसे में उज्जैन में काम अब और ज्यादा सुगमता एवं शीघ्रता से होने की उम्मीद शहरवासियों में बंधी है। 

उम्मीद, आवास मिशन, जल जीवन मिशन, अमृत मिशन, स्मार्ट सिटी मिशन के रूके-अधूरे कार्यों को पूरा कराने, शहर की सड़कों को जाम से मुक्त रखने को 8500 करोड़ रुपये के ग्रीन ट्रैफिक मोबिलिटी प्लान लागू कराने, शिप्रा शुदि्धकरण के लिए स्वीकृत कान्ह डायवर्शन क्लोज डक्ट परियोजना, एयरपोर्ट, रोप-वे, आइआइटी इंदौर का सैटेलाइट कैम्पस, हरिफाटक पुल की चारों भुजाओं का दोहरीकरण, मेडिकल डिवाइस पार्क, सरकारी मेडिकल कालेज, फ्रीगंज समानांतर पुल का निर्माण और महाकाल सवारी मार्ग चौड़ीकरण आरम्भ करवाने की है। इसके अतिरिक्त विक्रम उद्योगपुरी के 39 उद्योगों का संचालन जल्द आरम्भ कराने की है, जिससे अच्छा रोजगार पाकर लोग अपना जीवन स्तर ऊंचा उठा सकें। इधर, अधिकारीयों ने उज्जैन को मुख्यमंत्री का शहर होने के नाते इसे विश्वस्तरीय एक आदर्श शहर बनाने की दिशा में भी काम आरम्भ  कर दिया है। अमले को हिदायत दी गई है कि यहां जो भी काम हो गुणवत्ता के साथ टिकाऊ और खुबसूरत हों। सारे काम समय सीमा में हों।

'किसी ने अपनी ब्रांडिंग कर दी तो बाकी लोगों पर ध्यान नहीं जाता', शिवराज सिंह पर PM मोदी का तंज!

लिव इन में रह रहे शादीशुदा प्रेमिका को प्रेमी ने उतारा मौत के घाट, जाँच में जुटी पुलिस

19 दिसंबर को होगा MP कैबिनेट का विस्तार! इन नेताओं को नहीं मिलेगा मौका

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -