अन्धकार की तरह छाया परीक्षा का आतंक, एक बाद फिर छात्रा ने लगाई फांसी

Feb 13 2019 05:40 PM
अन्धकार की तरह छाया परीक्षा का आतंक, एक बाद फिर छात्रा ने लगाई फांसी

हाल ही में एक अपराध का मामला कानपुर के कल्याणपुर इलाके से सामने आया है. इस मामले में इंटरमीडिएट की छात्रा ने फांसी लगा ली है और उसका शव फांसी के फंदे पर लटका देखकर परिजनों के बीच जमकर हड़कंप मच गया है. इस मामले में बताया जा रहा है कि उसकी किताब में सुसाइड नोट मिला है, जिसमें परीक्षा की तैयारी ठीक न होने की बात लिखी गई है और पुलिस ने सुसाइड नोट कब्जे में लेकर छानबीन शुरू कर दी है. वहीं मिली खबरों के अनुसार कल्याणपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत मसवानपुर शिवनगर निवासी फल विक्रेता रामअवतार दिवाकर की 17 वर्षीय इकलौती बेटी गायत्री मंधना के एक इंटर कालेज में 12 वीं की छात्रा थी और बीते मंगलवार दोपहर दो बजे से उसका हिंदी प्रथम प्रश्न पत्र की परीक्षा थी.

खबरों के अनुसार बीते सोमवार रात खाना खाने के बाद वह देर रात तक पढ़ाई करती रही और इस मामले में पुलिस से बात करते हुए चाचा रामशरण ने बताया कि करीब 12 बजे मां संगीता ने कहा कि सो जाओ तो वह बोली कि एक घंटे और पढ़ेगी. वहीं उसके बाद घर के सभी लोग सोने चले गए और अगली सुबह यानी मंगलवार को छोटा भाई ज्ञानेंद्र जब बहन को जगाने पहुंचा तो उसका शव कमरे में पंखे के कुंडे से लटका देख चिल्लाने लगा. उस दौरान परिजनों ने100 नंबर पर पुलिस को सूचना दी.

इस मामले में लड़की की हिंदी की किताब के अंदर सुसाइड नोट मिला है और पुलिस ने बताया कि परीक्षा की तैयारी न होने के चलते छात्रा ने आत्महत्या की है.

यहां के बुजुर्ग कर रहे अपराध पर अपराध, वजह हैरान कर देगी

पुणे से गिरफ्तार हुए हाई प्रोफाइल चोर, फ्लाइट से आकर करते थे चोरी

दुल्हन के हाथ से रसगुल्ला खाना चाहता था दूल्हे का जीजा, हुआ कुछ ऐसा कि पहुँच गया जेल..